नशेड़ी पति ने कुल्हाड़ी से पत्नी की गला काटकर उतारा मौत के घाट

हाटा कोतवाली क्षेत्र के पड़री गांव का मामला

 | 
नशेड़ी पति ने कुल्हाड़ी से पत्नी की गला काटकर उतारा मौत के घाट

अवधनामा संवाददाता 

कुशीनगर। अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे के साथ सात जन्मों तक एक दूसरे का साथ निभाने की कसम खाने वाले पति ने शराब के नशे में अपनी जीवन-संगिनी को बेरहमी से कुल्हाड़ी से काटकर मौत के घाट उतार दिया। हैवानियत की हदें तब पार कर  हत्यारा पति अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद उसके शव के पास बैठा रहा। उसे न तो अपने किए पर कोई पछतावा था और न ही उसके चेहरे पर तनिक भी शीकन। 

मामला कुशीनगर जनपद के हाटा कोतवाली क्षेत्र के पड़री गांव का है, जहां बुधवार को सुबह करीब तीन बजे एक शराबी पति ने कुल्हाड़ी से पत्नी का गला काट कर बेरहमी से हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा अपनी पत्‍नी के शव के पास कमरे मे  ही बैठा रहा। पड़ोस के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंचीं पुलिस ने हत्यारे को हिरासत मे कर लिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। पुलिस का दावा है कि आपसी विवाद में कहासुनी के बाद शराबी पति ने कुल्हाड़ी से पत्नी की हत्या कर दी है। 

शराब पीने को लेकर अक्सर होता था झगड़ा

जिले के हाटा कोतवाली क्षेत्र के पड़री गांव के टोला मैनपुरवा निवासी रामसिंह हमेशा घर में शराब पीकर आता था. इस बात को लेकर उसकी 38 वर्षीय पत्नी रीता देवी से अक्सर विवाद होता रहता था। मंगलवार की शाम जब रामसिंह नशे की हालत में घर पहुंचा तो रोज की तरह पत्नी से तू-तू, मै-मै  हुआ। बताया जाता है कि भोजन करने के बाद रामसिंह अपने चारो बच्चों को मकान के दूसरे कमरे में सुला दिया जबकि 80 वर्षीय बुजुर्ग पिता मकान के दूसरे हिस्से में सोये हुए थे। इसके बाद राम सिंह ने रात को लगभग तीन बजे उठा और अपनी पत्नी रीता देवी का कुल्हाड़ी से गला काट कर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद वह खुद घर पर ही मौजूद रहा और शव के पास बैठा रहा। 

बच्चों की आवाज सुनकर पहुचे पड़ोसी

सुबह जब बच्चे सोकर उठे तो घटना देखकर वह दहाड़े मारकर रोने लगे. बच्चों के चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पास के लोग पहुंचे तो देखा कि खून से लथपथ रीता देवी का शव कमरे में पड़ा हुआ था। बगल में खून से सनी कुल्हाड़ी भी थी. घटना की सूचना ग्रामीणों ने हाटा कोतवाली पुलिस को दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने घर पर मौजूद हत्यारे पति राम सिंह को गिरफ्तार कर लिया. उसकी पत्नी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. मृतक रीता देवी के दो पुत्री और दो पुत्र हैं. मां की हत्‍या और पिता के जेल जाने की वजह से चारों बच्‍चों का रो-रोकर बुरा हाल है.

आरोपी पति राम सिंह गिरफ्तार

इस पूरे मामले में पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल का कहना है  कि, जानकारी मिली है कि रामसिंह शराब के नशे में रात को रोज घर आता था। इसी बात को लेकर पति पत्नी में विवाद होता रहता था। कल शाम को खाना खाने के बाद पति पत्नी दोनों कमरे में सो गए। सुबह बच्चों के चिल्लाने के बाद घटना को जानकारी लोगों ने पुलिस को दी. पुलिस ने आरोपी पति रामसिंह को गिरफ्तार कर लिया है. शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्यवाही की जा रही है।