बड़हलगंज के बाढ़ क्षेत्रों का डीएम ने किया दौरा, अधिकारियों पर हुए सख्त

अवधनामा संवाददाता (राघवेन्द्र मिश्र) एसडीओ पर हुये सख्त, कहा-पानी को तरस जाओगे पूर्व मंत्री ने बांध को बनवाने की कही बात बल्थर ग्रामवासियों को राहत सामग्री बांट की शुरुआत गोरखपुर (Gorakhpur)। गोला तहसील क्षेत्र के बडहलगंज विकास खण्ड के अंतर्गत राप्ती व सरयू नदी में आई बाढ़ से घिरे गांवों का जिलाधिकारी किरण विजय आंनद
 | 

बड़हलगंज के बाढ़ क्षेत्रों का डीएम ने किया दौरा, अधिकारियों पर हुए सख्त

अवधनामा संवाददाता (राघवेन्द्र मिश्र)

एसडीओ पर हुये सख्त, कहा-पानी को तरस जाओगे
पूर्व मंत्री ने बांध को बनवाने की कही बात
बल्थर ग्रामवासियों को राहत सामग्री बांट की शुरुआत
  गोरखपुर (Gorakhpur)। गोला तहसील क्षेत्र के बडहलगंज विकास खण्ड के अंतर्गत राप्ती व सरयू नदी में आई बाढ़ से घिरे गांवों का जिलाधिकारी किरण विजय आंनद ने दौरा कर बाढ़ पीड़ितों से उनका हाल जाना तथा बाढ़ राहत सामग्री वितरित कर अधिकारियों के लचर रवैये पर भी सख्त हुये।
सोमवार की तड़के सुबह आठ बजे ही बड़हलगंज पहुंचे जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम राप्ती की जद में पूरी तरह समा चुके जगदीशपुर गांव पहुंचे, जहां ग्रामीणों ने बताया कि गांव के लगभग सभी घर नदी की धारा में विलीन हो चुके हैं, रहने के लिए घर नही है। जिस पर उन्होंने एसडीएम से ग्रामीणों को बसाने के लिए जल्द से जल्द कालोनी निर्माण कराने की बात कही। इसके बाद उन्होंने बाढ़ से घिरे सूबेदार नगर मांझा, लखनौरी-लखनौरा, हिंहुआर, बल्थर, सीधेगौर आदि गांवों के बाढ़ पीड़ितों से वार्ता कर उनका दर्द जाना। ग्रामीणों ने बताया कि क्षेत्र में नाव कम लगा है, जिस पर उन्होंने तुरंत तहसील प्रशासन से नाव की संख्या बढ़ाने की बात कही। इसके साथ ही उन्होंने डॉक्टर की टीम से बाढ़ से घिरे गावों में छिड़काव के साथ ही साथ दवा वितरण करने व लेखपाल को सभी गांवों में राशन वितरण कराने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी के दौरे में उपस्थित पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी ने जिलाधिकारी को बताया कि सेमरा, अछिडीह व खड़ेसरी डेरवा बांध को जल्द ठीक कराने की आवश्यकता है। अगर बांध को ऊंचा कर उसे मजबूती के साथ बनाया जा सके तो रामजानकी मार्ग के साथ ही साथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज को भी सुरक्षित किया जा सकता और जनता को भी बाढ़ से काफी हद तक राहत मिल जायेगी।
बाढ़ क्षेत्रों का दौरा करने आये जिलाधिकारी से मोहन पौहारिया गांव के वासियों ने जिलाधिकारी से लंबे समय से ट्रांसफार्मर खराब होने की शिकायत की। ग्राम वासियों ने कहा कि बिजली विभाग के अधिकारियों को कई बार सूचित किया जा चुका है, लेकिन फिर भी ट्रांसफार्मर नही बदला गया। इतना सुनते ही डीएम आगबबूला हो गये और मौजूद एसडीओ मदनलाल से पूछा कि गांव में कब आये, ट्रांसफार्मर दो दिन के अंदर बदला जाना है, अभी तक क्यो नही बदला गया। एसडीओ ने जवाब दिया दो माह पूर्व गांव आया था, ट्रांसफार्मर जल्द बदलवा दिया जायेगा। इतना सुनते ही जिलाधिकारी एसडीओ पर भड़क गये और चेतावनी देते हुए कहा कि अच्छे से काम करना सिख जाओ वरना ऐसी जगह भेज दूंगा की पानी को तरस जाओगे।
सोमवार को दौरे पर आए जिलाधिकारी ने सीधेगौर प्राथमिक विद्यालय पर पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी के साथ बल्थर के बाढ़ पीड़ितों में राहत सामग्री का वितरण कर इसकी शुरुआत की। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी बाढ़ पीड़ितों के प्रत्येक घरों तक राहत सामग्री का वितरण किया जायेगा।
जिलाधिकारी के दौरे के दौरान एसडीएम राजेंद्र बहादुर, तहसीलदार केशव प्रसाद, नायब तहसीलदार पंकज गुप्ता, कानूनगो सुरेश कुमार, कोतवाल मनोज राय, डॉ राकेश गुप्ता, भाजपा नेता राजीव पांडेय, महेश उमर, अष्टभुजा सिंह, रविशंकर सिंह, पप्पू निषाद, नगीना त्रिपाठी आदि लोग मौजूद रहें।