दृष्टिबााधित बच्चो को टॉकिंग डिवाइस के वितरण कार्यक्रम की डीएम ने किया शुभारम्भ

 | 
दृष्टिबााधित बच्चो को टॉकिंग डिवाइस के वितरण कार्यक्रम की डीएम ने किया शुभारम्भ

अवधनामा संवाददाता

लखीमपुर खीरी. सर्व शिक्षा अभियान व यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में 169 पूर्ण दृष्टिबाधित बच्चों को एक्सेसिबिल टेबलेट ;टॉकिंग डिवाइसद्ध का वितरण हुआ कार्यक्रम का शुभारंभ डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने सीडीओ अनिल कुमार सिंह के साथ दीप जलाकर व मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया। इस दौरान लर्निंग कैंप की कक्षा तीन की दृष्टिबाधित छात्रा संजनाए कक्षा तीन की मूकबधिर छात्रा काशिफा व कक्षा चार के अजहर ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति से सभी का मन मोहा डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने दिव्यांग बच्चों को शुभकामनाएं देकर उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि एक्सेसिबिल टेबलेट ;टॉकिंग डिवाइसद्ध दिव्यांग बच्चों को स्मार्ट और सक्षम बनाएगा। इस लर्निंग कैंप का शिक्षणेत्तर स्टाफ बच्चों को एक्सेसिबिल टेबलेट की प्रॉपर ट्रेनिंग देए ताकि डिवाइस बच्चों के लिए उपयोगी साबित हो सके। दिव्यांग बच्चे हमारे अभिन्न अंग है। यह अच्छा प्रदर्शन करके अपनी प्रतिभा को और निखारकर आगे बढ़े। डीएम ने दिव्यांग बच्चों में एक्सेसिबिल टेबलेट वितरित कर इनसे बातचीत करके शिक्षा के बारे में जानकारी ली। इसके साथ दिव्यांग बच्चों को शिक्षा ग्रहण कर कामयाब बनाने का टिप्स दिया। कार्यक्रम की शुरुआत में बीएसए डॉ लक्ष्मीकांत पांडेय ने कार्यक्रम की आवश्यकता व प्रासंगिकता बताइ। जिले के 169 पूर्ण दृष्टिबाधित दिव्यांग बच्चों को यूनिसेफ के सहयोग से उनके शिक्षण व प्रशिक्षण हेतु यह डिवाइस प्रदान की जा रहीए जिसमें बच्चों के पठन.पाठन हेतु कक्षा एक से तीन तक का पाठ्यक्रम भी अपलोड है। वही यह डिवाइस बच्चों के लिए ऑनलाइन लाइब्रेरी की भी सुविधा से लैस है 

कार्यक्रम के अंत में डीएम महेंद्र बहादुर सिंह मौजूद दिव्यांग बच्चों के बीच पहुंचकर उन्हें दुलारा और उनसे बातचीत की। डीएम से बातचीत के दौरान दिव्यांगों में कामयाबी के प्रति आत्मविश्वास देखने को मिला। इस दौरान बच्चों से उन्होंने कविता और कहानियां भी सुनी