संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथों के सम्बंध में डीएम व एसपी ने प्रधानों से लिया फीडवैक

आगामी विधान सभा चुनाव 2022 के मद्देनजर सात ब्लॉकों में डीएम व एसपी ने बैठक कर शांतिपूर्ण माहौल में चुनाव सम्पन्न कराने का किया अपील

 | 
संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथों के सम्बंध में डीएम व एसपी ने प्रधानों से लिया फीडवैक

अवधनामा संवाददाता 


कुशीनगर। आगामी विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 को सकुशल सम्पन्न कराने की दृष्टिगत संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथों के संबंध में जिलाधिकारी एस राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल द्वारा प्रधानों के साथ बैठक कर विचार विमर्श किया। बता दें कि विकास खंड पडरौना व विशुनपुरा के ग्राम प्रधानों की बैठक पडरौना तहसील सभागार में हुई। इसी प्रकार रामकोला, कप्तानगंज व मोतीचक की बैठक ब्लॉक सभागार मोतीचक में तथा खड्डा एवं नेबुआ नौरंगिया ब्लॉक की बैठक ब्लॉक सभागार नेबुआ नौरंगिया में सम्पन्न हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने उपस्थित सभी ग्राम प्रधानों से कहा कि ग्राम प्रधानों से अपील करते हुए उन्होंने कहा की संवेदनशीलता के बारे में आज हम आपका फीडबैक लेने आए हैं। आपके सहयोग की आवश्यकता है। गांव के प्रथम नागरिक होने के कारण आपकी कुछ सामाजिक जिम्मेदारी है। आप अपने क्षेत्रों के बारे में बताए कि आगामी विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत क्या कोई समस्या है, कोई संवेदनशीलता तो नहीं है, हालिया पंचायत चुनाव को लेकर कोई अप्रिय घटना तो नही हुई है या कोई संभावित घटना के होने की कोई उम्मीद तो नही है। इस संदर्भ में आपके सहयोग की आवश्यकता है ताकि चुनाव प्रक्रिया शांतिपूर्ण व निष्पक्ष तरीके से सम्पन्न हो सके।उन्होंने कहा कि कोई दबंग जो धनबल या बाहुबल से वोट डालने और नहीं डालने के लिए मजबूर कर सकते हैं, आपसी रंजिश की वजह से लोग चुनाव के वक्त मौका ढूंढते हैं या फिर पंचायत, विधानसभा या  लोकसभा चुनाव में जो भी क्षेत्र पहले से संवेदनशील रहे हो वे संवेदनशील क्षेत्र माने जाते हैं। उन्होंने कहा कि किसी बिंदु पर यदि प्रशासन का ध्यान आकर्षित करना है तो बता दें जिससे समय रहते अग्रिम उपाय किया जा सके। उक्त बैठक में जिलाधिकारी ने सभी ग्राम प्रधानों से कोविड टीकाकरण हेतु ग्रामीणों को प्रोत्साहित करने का भी अनुरोध किया। उन्होनें बताया कि जनपद में मात्र 65 फीसदी लोगो ही प्रथम डोज़ का टीकाकरण हुआ हैं, जबकि तीसरी लहर की चुनौती अभी खत्म नहीं हुई है।

बैठक को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आगामी विधानसभा चुनाव निष्पक्ष व शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो इसके लिए संवेदनशील, अतिसंवेदनशील क्षेत्रों के बारे में बताए, चुनाव में व्यवधान पैदा कर सकने वाले दबंग या असामाजिक तत्वों की जानकारी दे। सार्वजनिक तौर पर जानकारी उपलब्ध कराने में असमर्थता पर गोपनीय तरीके से भी जानकारी दी जा सकती है।आपकी पहचान गोपनीय रखी जायेगी। उक्त बैठक में संवेदनशील व अतिसंवेदनशील ग्राम के ग्राम प्रधानों से वार्ता कर समस्याओं की रिपोर्ट भी ली गई तथा उन्हें आश्वस्त किया गया कि चुनाव शांतिपूर्ण व निष्पक्ष तरीके से सम्पन्न कराने में जिला प्रशासन का पूरा सहयोग होगा। अंत मे डीएम, एसपी व प्रमुख अर्चना प्रदीप सिंह द्वारा मोतीचक ब्लॉक परिसर में वृक्षारोपण किया गया। 

इस मौके पर एसडीएम पडरौना महात्मा सिंह, एसडीएम खड्डा उपमा पांडेय, एसडीएम कप्तानगंज कल्पना जायसवाल, एसडीएम हाटा, ब्लॉक प्रमुख मोतीचक अर्चना प्रदीप सिंह, बीडीओ मोतीचक सुशील कुमार सिंह, थानाध्यक्ष कप्तानगंज संजय कुमार सिंह, एडीओ आइएसबी प्रमोद कुमार, एडीओ पंचायत मोतीचक अनवारुल सिद्दीकी, लिपिक हरिओम शुक्ला, प्रधानो में अकमल, इंसाद उर्फ मुन्ना, नवरंग सिंह, अलाउद्दीन, प्रधानपति उमेश सिंह, हियुवा नेता रामु राव, रामकोला व कप्तानगंज के अधिकारी भी उपस्थित रहे।