जिलाधिकारी हमीरपुर नें ली मासिक समीक्षा बैठक

सेतु निगम के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर से मांगा स्पष्टीकरण।

 | 
 जिलाधिकारी हमीरपुर नें ली मासिक समीक्षा बैठक 

अवधनामा संवाददाता हिफजुर्रहमान 

हमीरपुर : शासन की प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यों  की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी डॉ चंद्र भूषण की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित डॉ एपीजे अब्दुल कलाम सभागार कक्ष में संपन्न हुई।

बिना अनुमति मुख्यालय से बाहर जाने तथा बैठक में अनुपस्थित पाए जाने पर जिलाधिकारी ने सेतु निगम के डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि बिना पूर्व अनुमति/ बिना स्वीकृति  के मुख्यालय से बाहर जाने पर संबंधित पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसे स्थानीय प्रकरण ,जिनके कारण मतदान के समय  लोग वोट डालने का बहिष्कार करते हैं, ऐसे सभी प्रकरणों को अभियान चलाकर निस्तारित किया जाए ताकि आगामी विधानसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि ग्रामीण व नगरीय क्षेत्रों में साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाए तथा स्वच्छता सर्वेक्षण के संबंध में फीडबैक देने के बारे में लोगों को जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि कायाकल्प योजना के अंतर्गत बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा विद्यालयों का सुंदरीकरण कराया जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे विद्यालय जहां पर दिव्यांग शौचालय अथवा रैम्प नहीं हैं उनमें शीघ्र इनकी व्यवस्था करा लिया जाए ।जहां पर विद्यालयों में कमरों के दरवाजे क्षतिग्रस्त हैं उनकी मरम्मत करा ली जाए । उन्होंने कहा कि विद्यालयों का आकस्मिक रूप से निरीक्षण कर अध्यापकों की समयबद्ध ढंग से उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाए इसमें कोई लापरवाही न बरती जाए ।

जिलाधिकारी ने  खेत तालाब  एवं चेकडैम निर्माण की समीक्षा की जो कि लक्ष्य के अनुसार पूर्ण पाए गए। उन्होंने कहा कि सभी सामुदायिक शौचालय क्रियाशील एवं जियोटैग  होने चाहिए यह सुनिश्चित किया जाय,  सामुदायिक शौचालय क्रियाशील रहें ,किसी भी दशा में वह बन्द नही होने चाहिए। उसकी देखरेख करने वाली स्वयं सहायता समूह की संबंधित महिलाओं को समय से मानदेय का भुगतान किया जाय। उन्होंने कहा कि जिन विभागों के पास विद्युत का बजट उपलब्ध है वह अपने विभाग के बकाए विद्युत बिल का तत्काल भुगतान कर दे। प्रत्येक पात्र परिवार का आयुष्मान / गोल्डन कार्ड बनाया जाए तथा इसके एक्टिवेशन का कार्य नियमित रूप से किया जाय ,कोई भी पात्र परिवार आयुष्मान कार्ड से वंचित न रहे ।  सरकार समर्थित विभिन्न प्रकार की योजनाओं में बैंकर्स द्वारा प्राथमिकता के साथ लोन दिया जाए,इसमे किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए । नई सड़कों का निर्माण कार्य समयबद्ध व गुणवत्ता पूर्ण ढंग से पूर्ण किया जाए , क्षतिग्रस्त सड़को को दुरुस्त कराया जाए।  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत प्राप्त शिकायतों की पेंडेंसी शीघ्र निस्तारित करें। दैवी आपदा से प्रभावित शत प्रतिशत किसानों का प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत क्लेम स्वीकृत कराया जाय। कहा कि 100 % अन्ना पशुओं का टीकाकरण तथा ईयरटैगिंग की जाय, कहा कि कोई भी अन्ना जानवर सड़कों पर नहीं दिखना चाहिए उन्होंने कहा कि गौशालाओं में पशुओं को ठंड से बचाने के पर्याप्त इंतजाम रखे जाएं वहां चारा पानी भूसा की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए जरूरी निर्देश दिए, इस मौके पर जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना ,टीकाकरण ,102 एंबुलेंस सेवा तथा 108 एंबुलेंस सेवा के रिस्पांस टाइम की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने जरूरी दिशा निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि नहरों के टेल तक अनिवार्य रूप से पानी पहुंचाया जाए। कहा कि अवैध खनन / परिवहन पर प्रवर्तनीय कार्यवाही की जाय।

जिलाधिकारी ने कहा कि आइजीआरएस , मुख्यमंत्री पोर्टल तथा अन्य माध्यमों से प्राप्त होने वाली जनशिकायतों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण सुनिश्चित किया जाय।  उचित दर की दुकानों का समय पर व्यवस्थापन कर लिया जाय। उन्होंने कृषि सिंचाई योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना ,प्रधानमंत्री आवास योजना ,कौशल विकास मिशन ,स्वरोजगार संबंधित योजना ,ओडीओपी  ,प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम आदि की समीक्षा करते हुए जरूरी दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवासों को जल्द से जल्द पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने निर्माण कार्यों  से संबंधित कार्यों की समीक्षा करते हुए सभी निर्माण कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण करने के निर्देश दिए ।

इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य ,पीडी साधना दीक्षित  ,सीएमओ डॉ एके रावत , उपायुक्त स्वतः रोजगार कमलेश कुमार तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।