जिलाधिकारी ने जनपद में निर्माणाधीन ग्राम समूह पेयजल परियोजना केवथा गोववास का किया औचक निरीक्षण

 | 
जिलाधिकारी ने जनपद में निर्माणाधीन ग्राम समूह पेयजल परियोजना केवथा गोववास का किया औचक निरीक्षण

अवधनामा संवाददाता 

सोनभद्र/ब्यूरो  जिलाधिकारी  टी0के0 शिबु ने जनपद में निर्माणाधीन ग्राम समूह पेयजल परियोजना केवथा गोववास का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने एक्स0ई0एन0 जल निगम से निर्माण कार्य प्रारंभ होने, निर्माण कार्य प्रारंभ होने की तिथि और निर्माण कार्य पूर्ण होने के सम्बन्ध में जानकारी ली, तो अधिशासी अभियन्ता ने बताया कि निर्माणाधीन ग्राम समूह पेयजल परियोजना केवथा गोववास में 11 दिसम्बर 2020 से कार्य प्रारंभ किया गया है और 10 दिसम्बर, 2022 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता से यह भी जानकारी ली की, कितनी ग्राम सभाओं को जलापूर्ति उपलब्ध हो सकेगी। जिस पर अधिशासी अभियन्ता द्वारा बताया गया कि 14 ग्राम सभाओं को इस पाईप पेयजल योजना के अन्तर्गत जल की आपूर्ति हर घर को की जायेगी, जिसमें फेज-1 के अन्तर्गत लगभग 6 ग्राम सभाओं में पानी की आपूर्ति मार्च, 2022 तक प्रारंभ कर दी जायेगी, इस ग्राम समूह पेयजल के अन्तर्गत 14 ग्राम सभाओं में पानी की जलापूर्ति की जानी है, जिसमें 9382 मकान स्थापित हैं, जिसमें लगभग 54 हजार 460 लोग निवास करते हैं। इस दौरान अधिशासी अभियन्ता ने यह भी बताया कि इस परियोजना को पूर्ण करने हेतु 89.79 करोड़ रूपये की धनराशि आवंटित की गयी है और इस परियोजना का निर्माण जैन कान्ट्रैक्शन हिसार के द्वारा किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने निर्माण कार्य की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि ग्राम समूह पेयजल योजना प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के माध्यम से गांव में निवास करने वाले व्यक्तियों को हर घर को नल से जल की सुविधा उपलब्ध करायी जानी है। अतः उक्त परियोजना का निर्माण कार्य अति शीघ्रता के साथ पूर्ण किया जाय, जिससे गांव में निवास करने वाले परिवारों को पानी की सुविधा उपलब्ध हो सके। जिलाधिकारी ने इस दौरान ग्राम समूह पेयजल योजना पहुंच मार्ग बने हैं, प्रधानमंत्री सड़क योजना के अन्तर्गत बनायी गयी है, वह काफी जर्जर स्थिति में है, जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे को निर्देेशित किया कि एक्स0सी0एन0 पी0डब्ल्यू0डी0 के माध्यम से इस सड़क की मरम्मत हेतु प्रस्ताव बनाकर भेजा जाय और सड़क का निर्माण कार्य गुणवत्ता पूर्ण ढंग पूरा किया जाय। 

इस दौरान जिलाधिकारी ने सम्बन्धित को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्माण कार्य गुणवत्ता पूर्ण व समयबद्ध तरीके से पूर्ण करना सुनिश्चित करें, उसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता व लापरवाही पर सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। इस दौरान अपर जिलाधिकारी  आशुतोष दूबे, अधिशासी अभियन्ता जल निगम  महेन्द्र सिंह, सहायक अभियन्ता  अनिल कुमार, जेई  शशिकान्त, परियोजना प्रबन्धक  कमल गोयल उपस्थित रहें।