जातीय जनगणना कराने हेतु प्रदर्शन एवं ज्ञापन

 | 
जातीय जनगणना कराने हेतु प्रदर्शन एवं ज्ञापन

अवधनामा संवाददाता 

 देवरिया (Devariya) आज चौरसिया महासभा एवं राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग संघ द्वारा जिलाध्यक्ष दिनेश चौरसिया के नेतृत्व में संयुक्त रूप से मा०प्रधानमंत्री एवं मा०मुख्यमंत्री जी को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया।जिसमे लिखा गया था कि संसद के मानसून सत्र में केंद्र सरकार द्वारा बताया गया कि 2021 में होने वाली जनगणना जाति आधारित नही होगी जिससे समस्त पिछड़ा वर्ग व अपने राजनैतिक  व संवैधानिक अधिकारों के लिए प्रयासरत चौरसिया समाज मे घोर निराशा व्याप्त है।

जातीय जनगणना होने से सरकार को पिछड़े व कमजोर वर्ग की वास्तविक संख्या की सही जानकारी होगी तथा उनके राजनैतिक तथा संवैधानिक हितों को धयान में रखते हुए सरकार की योजनाओं के सुचारू क्रियांवयन को बल मिलेगा।माननीय जी चौरसिया समाज राजनैतिक रूप से स्वयं को  ठगा हुआ महसूस करता है ऐसे में जनसंख्या के अनुपात का वास्तविक जानकारी न होने के कारण हमारे समाज का अस्तित्व दिशाहीन सा प्रतीत होता है।

अतः सम्पूर्ण चौरसिया समाज व पिछड़े वर्ग की भावनाओं को धयान में रखते हुए तथा उनके हितों की रक्षा हेतु वर्ष 2021 की जनगणना को जाति आधारित कराना तथा उसकी रिपोर्ट को सार्वजनिक करना न्यायोचित होगा ।

ज्ञापन हेतु सैकड़ों प्रदर्शनकारी शहर के सुभाष चौक पर एकत्रित होकर झंडे बैनर के साथ नारे बाजी करते हुए कलेक्ट्रेट निकले  जिससे  यातायात व्यवस्था भी प्रभावित हुई तथा शहर का मुख्य मार्ग जाम हो गया जिसमें  प्रशासन को काफी मसक्कत करनी पड़ी।

ज्ञापन देने वालो में मुख्य रूप से सुदर्शन चौरसिया, पंकज प्रताप चौरसिया,आनंद पाल चौरसिया, मुन्ना चौरसिया, गणेश चौरसिया, भानु प्रताप चौरसिया, छोटे लाल चौरसिया, मुन्ना चौरसिया, अमित चौरसिया, प्रेम प्रकाश चौरसिया, ओम प्रकाश चौरसिया, सागर चौरसिया, विनोद चौरसिया, बबलू चौरसिया, राजेश चौरसिया, सोनू चौरसिया, राज मद्धेशिया, मुकेश चौरसिया,रवि प्रकाश चौरसिया एवं वृजेश यादव सही तमाम लोग उपस्थित रहे।