प्रार्थना पत्र देकर चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई करने की मांग की

 | 
प्रार्थना पत्र देकर चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई करने की मांग की

अवधनामा संवाददाता

लखीमपुर खीरी. थाना खीरी के चौकी नकहा के इंचार्ज नरेंद्र प्रताप  ने  गांव अशोगापुर में एक शिकायत को लेकर रात 9 बजे घर में घुसकर महिलाओं से बदसलूकी की।  घर में तोड़फोड़ की इस पर भी उनका मन नहीं भरा। तो कमरे में पढ़ाई कर रही आरोपी की बहन को पीट दिया और उसके बाल पकडकर धक्का दे दिया। उसकी किताब फाड़ दी। जिससे वह दीवार मे लडी और सिर में चोट आ गई चौकी इंचार्ज धमकी देते हुए चले गए ।पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक लखीमपुर को प्रार्थना पत्र देकर चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई करने की मांग की है  ।पीड़िता प्रांन्शी शुक्ला ने बताया कि रविवार रात 9 बजे चौकी इंचार्ज नरेंद्र प्रताप नकहा अपने तीन सिपाहियों के साथ मेरे घर आये व मेरे भाई कल्लन शुक्ला के बारे में पूंछा भाई के घर में ना होने की बात सुन वह आग बबूला हो गए और गालियां देने लगे इसके बाद वह मेरे कमरे में आ गए। जहां मैं पढ़ाई कर रही थी उन्होंने मेरी किताबें फाड़ दी और कुर्सी मेज तोड़ दिया मेरे तमाचा मारा और मेरा सर दीवार में लड़ा दिया जिससे मेरे सर में चोट आ गई  प्रान्शी ने बताया कि चौकी इंचार्जके साथ कोई महिला कांस्टेबल भी मौजूद नहीं थी ।पीड़िता ने बताया कि जिस मामले को लेकर वह आए थे उस मामले में सुलह समझौता भी हो चुका था अगले दिन ब्लाक प्रमुख पवन गुप्ता ने भी इस मामले में लिखित समझौता करा दिया है। परिजन चौकी इंचार्ज की इस कार्रवाई से खासा भयभीत हैं । मामले की जांच की मांग पुलिस अधीक्षक लखीमपुर को प्रार्थना पत्र दिया है जिस पर पुलिस अधीक्षक ने जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने की बात कही है द्यचौकी इंचार्ज पर कार्यवाही न होने पर राष्ट्रीय परशुराम परिषद आंदोलन करेगा