कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके कानूनी कार्यवाही करने की मांग

 | 
 कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके कानूनी कार्यवाही करने की मांग 

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या ।भारत की जनवादी नौजवान सभा जिला कमेटी द्वारा जनौस  के प्रदेश महासचिव कामरेड सत्यभान सिंह जनवादी के नेतॄव में आज 11 बजे नगर कोतवाल से मिलकर  कंगना रनौत जो बेहूदा बयान बाजी करके क्रान्तिकारियों, स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, देश की अवाम का अपमान करने वाली कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके कानूनी कार्यवाही करने,देश द्रोह का मुकदमा दर्ज करने और पद्मश्री अवार्ड को तत्काल वापस लेने की मांग को लेकर एप्लिकेशन दिया और तत्काल प्रभाव से एफआईआर दर्ज करके कारवाही करनी की मांग रखी, मांगपत्र देने में उत्तर प्रदेश खेतमज़दूर संगठन के प्रांतीय महामंत्री कामरेड शैलेन्द्र सिंह,वरिष्ठ नेता कामरेड राजेद नन्द,जनौस मंडल प्रभारी कामरेड विनोद सिंह,कांग्रेस नेता कमलेश सिंह यादव,जनौस नेता कामरेड मुकेश श्रीवास्तव, महावीर पाल,कामरेड रामदुलारे यादव,माकपा नगर सचिव कामरेड रामजी तिवारी मौजूद रहे ।जनौस के प्रदेश महासचिव कामरेड सत्यभान सिंह जनवादी ने कंगना द्वारा शहीदों का अपमान व देश के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के अपमान करने का कड़ा विरोध करते हुए कहा कि इस तरह से आजादी के दीवानों का अपमान करना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।संगठन कड़ा विरोध दर्ज कराते हुते तत्काल एफआईआर दर्ज करके पद्मश्री अवार्ड को वापस लेते हुए सरकार इसको जेल में डाले।उन्होंने कहा कि जिनका आजादी के आंदोलन में कोई भी योगदान नही रहा है वो आज देश के शहीदों का अपमान कर रहे है।

उत्तर प्रदेश खेत मज़दूर संगठन के प्रांतीय महामंत्री कामरेड शैलेन्द्र सिंह ने कहा कि कंगना रनौत ने देश को शर्मसार कर दिया है संगठन कड़ा विरोध करते हुए कार्यवाही की मांग करता है और सरकार इस तरह की अभद्र व देश विरोधी बयानबाजी की पुनरावृत्ति न हो सरकार को कार्यवाही करना ही होगा।

कामरेड राजेश नन्द ने कहा कि आज इस तरह देश की आजादी का भीख कहना कंगना के अपराध है सरकार कड़ी से कड़ी सजा दे।

माकपा नगर सचिव कामरेड रामजी तिवारी ने कहा कि आज जब देश की मौजूदा सरकार आजादी का 75वाँ अमृत महोत्सव मना रही है तब कंगना के देश विरोधी वयान आ रहे है और सरकार अभी तक कोई कार्यवाही नही किया।हजारो लाखो लोंगो ने देश की आजादी के लिए कुर्बानी दी और अंग्रेजी हुकूमत को देश से खदेड़ा और कंगना रनौत कह रही है कि  आजादी 1947 में भीख में मिली है भगतसिंह, नेताजी सुभाषचंद्र बोस, अशफाक उल्लाह खां, पंडित रामप्रसाद बिस्मिल की बजह से नही भीख में आजादी मिली है।और असली आजादी 2014 में मिली है।संगठन अयोध्या कमेटी कड़ा विरोध दर्ज कराते सरकार से अपील करती है कि ऐसे शहीद विरोधी कंगना रनौत के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए जेल में डाले नही तो संगठन पूरे देश मे आंदोलन करेगा।