डीएपी खाद में प्रत्येक बोरी से पांच किलो की घटतौली

घटतौली को लेकर किसानो ने किया हंगामा

 | 
डीएपी खाद में प्रत्येक बोरी से पांच किलो की घटतौली

अवधनामा संवाददाता 

कुशीनगर। जनपद के खड्डा तहसील अन्तर्गत गोठिहवा क्षेत्र मे अवस्थित ऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड पीसीएफ कृषक सेवा केंद्र से मिलने वाली खाद की बोरी में चार से पांच किलो खाद की घटतौली होने का मामला प्रकाश मे आया है। हालांकि  खाद की बोरी पर  वजन 50 किलों अंकित है। लेकिन जब किसानों ने बोरी का वजन किया तो खाद कम था जिसे लेकर किसानों ने जमकर हंगामा किया साथ ही भ्रष्टाचार करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। काबिलेगोर है कि एफसीआई गोदाम से नवम्बर माह की 27 तारीख को गोठिहवा स्थित साधन सहकारी समिति पर तीन सौ बोरी 15 एमटी डीएपी खाद भेजी गयी थी जहा से किसान खाद खरीदकर ले गये थे। किसानों ने अपने घर खाद की बोरी का तौल किया गो अधिकांश बोरी मे 45 व 46 किलोग्राम खाद पाया गया।

ट्रक को रोकर गोदाम पर किया हंगामा

घटतौली को लेकर आक्रोशित किसान शंभू यादव, प्रभु यादव, कमलेश , पारस निषाद, रिंकू साहनी योगेंद्र यादव आदि मंगलवार को जब एफसीआई गोदाम पर पहुचे तो वहा ट्रक संख्या यूपी 57टी 1047 से खाद उतर रही थी। गोदाम के सचिव रामदरस यादव के मौजूदगी मे किसानो ने ट्रक से पांच बोरी डीएपी खाद उतरवाकर तौल कराया तो बोरे पर अंकित पचास किलो के सापेक्ष क्रमशः 45.9किलो,  47.9किलो 48 किलो, 48.8 किलो वजन पाया गया। मौके पर घटतौली देख किसानो का गुस्सा फूट पडा और किसानो ने वही ट्रक रोकर कर हंगामा शुरू कर दिया। किसान योगेंद्र यादव का कहना है कि  सरकार हम लोगो से पचास किलो डीएपी खाद का पैसा ले रही हैं और बदले मे सरकारी गोदाम से चार से पाच किलो खाद कम दिया जा रहा है।  किसानों के साथ धोखाधड़ी की जा रही है जिसे अधिकारी और जनप्रतिनिधि धृतराष्ट्र बनकर देख रहे है। 

सचिव बोले

समिति के सचिव राम दरस यादव ने बताया कि इसके पहले गोदाम पर जो ट्रक आई थी उस बारे किसानों ने 45 से 48 किलो ही खाद होने की बात बतायी थी जबकि बोरी कही से भी डैमेज नहीं था। आज फिर गोदाम पर खाद की खेप आने पर किसान तौल मशीन लेकर आये और जब तौल हुआ तो उनके आरोप सही पाये गये है। सचिव ने कहा कि विभागीय अधिकारियों को सूचना दे दी गयी है।