सहारा व पल्स में फंसे लोगों के पैसों को लेकर कांग्रेस का जिले भर में धरना प्रदर्शन

सहारा इंडिया के प्रत्येक शाखाओं पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का हल्ला-बोल

 | 
सहारा व पल्स में फंसे लोगों के पैसों को लेकर कांग्रेस का जिले भर में धरना प्रदर्शन
अवधनामा संवाददाता

कुशीनगर। सहारा और पल्स में निवेशकों के फंसे रुपये को लेकर कांग्रेसियों ने शुक्रवार को जिले भर में सहारा इंडिया के शाखाओं पर जोरदार प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। इसी क्रम में खड्डा में सहारा इंडिया के ब्रांच पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह के नेतृत्व में भारी संख्या में जुटे कांग्रेसियों ने सहारा और पल्स में निवेशकों के फँसे पैसों को दिलवाए जाने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपा।

जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने बताया कि इन कंपनियों में बड़ी संख्या में गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों के लोगों के पैसे फंसे हुए हैं परन्तु आज भी प्रदेश में इस प्रकार की अनेक कंपनियां चल रही हैं यहाँ तक कि प्रदेश सरकार के पास इस फर्जीवाड़े में उत्तर प्रदेश के कितने लोगों के पैसे फंसे हुए हैं इसकी कोई सूची तक उपलब्ध नही है। इन निवेशकों में से ज्यादातर निवेशक उत्तर प्रदेश के हैं जिन्होंने बेहतर रिटर्न के लिए पर्ल एवं सहारा में इन्वेस्ट किया है। सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट और सेवी के दखल के बाद भी अभी तक लोगों के हाथ खाली हैं। कांग्रेस पार्टी यह मांग करती है कि सहारा इंडिया, पीएसीएल में गरीब, दिहाड़ी मज़दूर, छोटे दुकानदारों का रुपया सालों से फंसा है। उनके खून-पसीने की कमाई उन्हें मिलना ही चाहिए। ये उनका हक है। सहारा इंडिया में मजदूरों, किसानों का आरडी/एफडी का रुपया न कोर्ट में है और न ही सेबी में है। बावजूद सहारा रुपया नहीं लौटा रहा। भाजपा सरकार को गरीबों, मजदूरों के गाढ़ी कमाई से कोई मतलब नहीं क्योंकि भाजपा के आंगन पूंजीपतियों से भरे पड़े हैं साथ ही श्री सिंह ने कहा कि सहारा, पीएसीएल गरीबों, रोजमर्रा के कामगारों, छोटे दुकानदारों के मेहनत की कमाई को डकार कर सत्ता के संरक्षण में चैन की नींद ले रहें हैं।जबतक सहारा के उपभोक्ताओं का बकाया पैसा इन्हें वापस नही दिलाया जाता तबतक हम इन पूंजीपतियों के रखवालों की नींद हराम करते रहेंगे।

इस दौरान विधानसभा प्रभारी आफ़ताब आलम, जिला महासचिव अजय जायसवाल, धनन्जय सिंह, रतन मद्धेशिया, अनिरुद्ध कुशवाहा, परशुराम यादव, अशोक सिंह, ब्रम्हानंद सिंह, लालबाबू नेता, विजेन्दर मल्ल, वाजिद अली, आरती देवी, श्रीराम कुशवाहा, देवेंद्र सिंह, जवाहिर चौहान, फत्ते आलम, तसरिफून नैस, अमित सिंह, संजय गुप्ता, संदीप कन्नौजिया, अमित राणा, राहुल सिंह, सौरभ श्रीवास्तव, अंकित सिंह,आशा देवी, कुन्ती, जितेंद्र कुशवाहा, सरोज, परमिला देवी, नथुनी सहित अन्य तमाम उपभोक्ता मौजूद रहें।