कांग्रेस ने शौर्य प्रदर्शनी का किया आयोजन

सेना की बहादुरी पर हम सभी को गर्व: पूर्व सांसद निर्मल खत्री

 | 
 कांग्रेस ने शौर्य प्रदर्शनी का किया आयोजन 

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या। वर्ष 1971 में हुए भारत-पाक युद्ध में भारत की विजय के 50 वीं वर्षगांठ को पूरे देश में विभिन्न आयोजनों के माध्यम से मनाया गया। उसी श्रृंखला में अयोध्या में कांग्रेस पार्टी के कार्यालय कमला नेहरू भवन पर कांग्रेस नेता शरद शुक्ला के संयोजन में शौर्य प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी में 1971 में हुए युद्ध के जांबाज सिपाहियों समेत युद्ध के विभिन्न अविस्मरणीय पलों के चित्र प्रदर्शित किए गए। इस अवसर पर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म का भी प्रसारण किया गया जिसके माध्यम से उपस्थित जनों को भारतीय सेना के शौर्य और तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दृढ़ निश्चय एवं  निडरता से लोगों को रूबरू कराया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन उत्तर प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद डॉ निर्मल खत्री ने फीता काटकर किया। प्रदर्शनी के उपरांत डॉ निर्मल खत्री ने कहा की सेना की बहादुरी पर हम सभी को गर्व है। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी के इस साहसिक निर्णय से 1971 में पूरे विश्व का भूगोल बदल गया और पाकिस्तान से अलग होकर बांग्लादेश राष्ट्र का उदय हुआ। उन्होंने आगे कहा कि इस तरह के आयोजन राष्ट्रीय पटल पर भी होने चाहिए।

कार्यक्रम के संयोजक शरद शुक्ला ने बताया इस कार्यक्रम को कराने का उद्देश्य नई पीढ़ी को देश के गौरवशाली अतीत से जोड़ने का है। आज के नौजवानों को यह जानने की आवश्यकता है की किस प्रकार सेना के शौर्य और तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी के दृढ़ निश्चय से पाकिस्तान के 90000 सैनिकों ने भारत के सामने घुटने टेक दिए।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से एआईसीसी सदस्य राजेंद्र प्रताप सिंह, पूर्व जिला अध्यक्ष रामदास वर्मा, युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष संजय तिवारी, मधु पाठक , जिओ हैदर , श्रीनिवास शास्त्री,  राम बहादुर सिंह , भीम शुक्ला, अमरीश पांडे, धर्मेंद्र सिंह फास्टर, प्रवीण श्रीवास्तव,  प्रेम पांडे,  अनुभव जायसवाल,  संदीप यादव, सावन शर्मा, शोभित शुक्ला, विवेक शुक्ला, अवनीश द्विवेदी, आशुतोष आदि उपस्थित रहे।