देवबंद में ATS सेंटर का शिलान्यास करेंगे CM योगी:

देवबंद दौरे के दौरान दारुल उलूम के भ्रमण करने की संभावना, श्री त्रिपुर मां बाला सुंदरी देवी शक्ति पीठ के दर्शन करने जाएंगे CM

 | 
देवबंद में ATS सेंटर का शिलान्यास करेंगे CM योगी:
अवधनामा संवाददाता 

एच एफ ख़ान देवबंद (H F Khan Deoband) : इस बार नवरात्र पर प्रदेश सरकार देवबंद में 7 अक्टूबर को प्रस्तावित ATS ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास करेगी। बताया जा रहा है कि इस मैाके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देवबंद सकते हैं। सीएम के संभावित दौरे को लेकर देवबंद से सहारनपुर तक अफसरों ने तैयारी शुरू कर दी है। दो दिन पहले प्रशासनिक टीम ने उस जमीन का निरीक्षण भी किया था। जहां ATS सेंटर का निर्माण होना है।

विधायक ने दिया निमंत्रण
विधायक कुंवर बृजेश सिंह ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर देवबंद में प्रस्तावित ATS ट्रेनिंग सेंटर का शिलान्यास करने का निमंत्रण दिया। संभावना जताई जा रही है कि दूसरे नवरात्र पर सीएम योगी आदित्यनाथ देवबंद सकते हैं। विधायक कुंवर बृजेश सिंह ने बताया लखनऊ में मुलाकात के दौरान देवबंद में ATS सेंटर के निर्माण को लेकर मुख्यमंत्री को उन्होंने धन्यवाद दिया। इसके अलावा देवबंद का नाम देववृंद करने की मांग भी रखीं। विधायक ने बताया मुख्यमंत्री ने देवबंद आने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। जल्द ही मुख्यमंत्री देवबंद एटीएस सेंटर का शिलान्यास करेंगे। बता दें कि प्रदेश के 8 जिलों में यूपी सरकार ने ATS ट्रेनिंग सेंटर खोलने के दिशा निर्देश जारी किए थे। जिनमें से पश्चिमी उत्तर प्रदेश का देवबंद भी शामिल है। हालांकि देवबंद में ATS सेंटर बनाए जाने को लेकर सत्ता और विपक्ष के नेताओं में खींचतान भी चल रही है। देवबंद में मुख्यमंत्री के आने से पश्चिम उत्तर प्रदेश की सियासत एक बार फिर से गर्माएगी।

बजरंग दल ने भी भेजा था निमंत्रण
बजरंग दल के पश्चिमी प्रांत संयोजक विकास त्यागी ने भी मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर देवबंद में एटीएस सेंटर की नींव रखने के लिए निमंत्रण भेजा था। इसके अलावा भाजपा संगठन के भी नेता मुख्यमंत्री को देवबंद एटीएस सेंटर के शिलान्यास करने का निमंत्रण भेज चुके हैं।

दारुल उलूम का दौरा भी कर सकते है सीएम
सियासी गलियारों में यह भी चर्चा जोरों पर है कि यदि मुख्यमंत्री गंगा जमुनी तहजीब की प्रतीक माने जाने वाली देवबंद की धरती पर आएंगे तो वह दारुल उलूम भी देखने जा सकते हैं। चर्चा तो यहां तक भी है कि मुख्यमंत्री दारुल उलूम के मोहतमिम अन्य उलेमाओं से भी मुलाकात कर सकते है तथा श्री त्रिपुर मां बाला सुंदरी देवी शक्ति पीठ पर दर्शन हेतु जा सकते हैं। यदि मुख्यमंत्री का देवबंद आगमन संभव हो पाया तो वह पहली बार यहां का दौरा करेंगे।