आंगनबाड़ी भवनों का मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन

गुलाम ओलिया केंद्र की आंगनवाड़ी कार्यकत्री मोहिनी सैनी को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

 | 
गुलाम ओलिया केंद्र की आंगनवाड़ी कार्यकत्री मोहिनी सैनी को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर(Saharanpur)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा लखनऊ में आंगनबाड़ी भवनों का उद्घाटन किया गया। पोषण अभियान में गत वर्ष सितंबर माह में उत्कृष्ट कार्य करने वाली राज्य की 15 आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, मुख्य सेविकाओं और बाल विकास परियोजना अधिकारियों को सम्मानित भी किया गया है। जनपद सहारनपुर से गुलाम ओलिया स्थित केंद्र की आंगनवाड़ी कार्यकत्री श्रीमती मोहिनी सैनी को मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित किया गया। शासन के दिए गए निर्देशों के क्रम में जनपद में भी विभिन्न विकास खंडों में शासन द्वारा निर्मित आंगनबाड़ी भवनों का उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया।

जिला पंचायत अध्यक्ष मांगेराम चौधरी ने कहा कि सभी लोगों को अपना पोषण और स्वास्थ्य उत्तम रखना चाहिए और बच्चों को उत्तम शिक्षा के लिए आंगनवाड़ी केंद्र पर भेजना चाहिए। उन्होने कहा कि कार्यकत्रियों और सहायिकाओं को अपना कर्तव्य निष्ठा के साथ करें। ग्रामीण अंचलों के गरीब बच्चों का पूरा ध्यान रखा जाए। सरकार द्वारा दिए जाने वाले खाद्यान्न का ईमानदारी से वितरण किया जाए।

मांगेराम चौधरी आज विकासखंड बलिया खेड़ी में रूपडी गुर्जर ग्राम स्थित आंगनबाड़ी केंद्र के उद्घाटन समारोह में यह बात कही। उन्होने शासन की नीतियों तथा शासन की पारदर्शी व्यवस्था, शासन के उद्देश्यों के संबंध में जनमानस को अवगत कराया तथा आंगनबाड़ी केन्द्र स्थित प्रांगण में वृक्षारोपण कर राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ भी किया।

जिला पंचायत सदस्य मुकेश चौधरी ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा पारदर्शी व्यवस्था अपनाई गई है उसी के तहत इतने सुंदर आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण पारदर्शिता के साथ किया जा रहा है आगे भी सरकार की नीतियां इसी प्रकार पारदर्शी व्यवस्था के तहत क्रियान्वयन करेंगी। उन्होने कहा कि आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि यह केंद्र, मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र के रूप में विकसित होंगे जिसका जनमानस को लाभ मिलेगा।

विकासखंड बलिया खेड़ी की प्रमुख श्रीमती सोनिया ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को निष्ठा से काम करने का आह्वान किया और कहा कि गांव के बच्चे आप ही के बच्चे हैं उनकी देखभाल का दायित्व आपके कंधों पर है आप सभी का यह दायित्व है कि आप उनका पूर्ण ख्याल रखें।  उनका वजन समय-समय पर लेती रहें। यदि बच्चे कुपोषित है तो उनका सही जगह पर इलाज करवाएं और अत्यंत गंभीर हैं तो उन्हें पोषण पुनर्वास केंद्र पर भर्ती कराएं। जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय पोषण माह का कार्यक्रम 1 से 30 सितंबर तक लगातार चलाया जा रहा है और जिस में समय-समय पर शासन की नीतियों का प्रचार प्रसार किया जाएगा। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य मुकेश चौधरी, मानकमऊ बीजेपी मंडल अध्यक्ष संजीव लालाजी, ग्राम प्रधान श्रीमती संयोगिता देवी, प्रधान पति इंलम सिंह, बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती गौहर अंजुम, मुख्य सेविका श्रीमती सविता तेजान उपस्थित रहे।