जबरन धर्मातरण कराने वाले युवक पर मुकदमा दर्ज

अवधनामा संवाददाता वर्ष 2009 से ही धर्मांतरण संबंधी गतिविधियों में लिप्त पाया गया था आरोपी आरोपी के बहनोई की तहरीर पर तुर्कपट्टी थाने की पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा कुशीनगर (Kushinagar)। ईसाई धर्म में धर्मांतरण कराने के आरोप में तुर्कपट्टी थाने की पुलिस ने गोपालगंज जिले के रहले वाले एक व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज
 | 

अवधनामा संवाददाता

वर्ष 2009 से ही धर्मांतरण संबंधी गतिविधियों में लिप्त पाया गया था आरोपी
आरोपी के बहनोई की तहरीर पर तुर्कपट्टी थाने की पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा
कुशीनगर (Kushinagar)। ईसाई धर्म में धर्मांतरण कराने के आरोप में तुर्कपट्टी थाने की पुलिस ने गोपालगंज जिले के रहले वाले एक व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। बीते बुधवार को प्रार्थना सभा मे ग्रामीणों  द्वारा हंगामा किए जाने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी। इसके बाद का आरोपी के बहनोई की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा, हुई है। पुलिस की जांच में वह वर्ष 2009 से ही धर्मांतरण संबंधी गतिविधियों में संलिप्त पाया गया है।
बता दें कि तुर्कपट्टी थानाक्षेत्र के खुदरा अहिरौली गांव के निवासी बचई प्रजापति ने तहरीर देकर बताया था कि उनका साला कन्हैया प्रजापति निवासी पूरेखास थाना गोपालपुर जनपद गोपालगंज (बिहार) धर्मांतरण संबंधी गतिविधियों में संलिप्त है। बचई के मुताबिक आरोपी ने उनकी पत्नी को ईसाई बना दिया है। उन्हें भी प्रलोभन देकर और डरा-धमकाकर ईसाई धर्म अपनाने के लिए दबाव बना रहा है। धर्मांतरण का यह कार्य कई वर्षों से कर रहा है। उनकी तहरीर पर तुर्कपट्टी पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। मुकदमा दर्ज करने की जानकारी एसओ आनंद गुप्त ने दी। उन्होंने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि आरोपी कन्हैया प्रजापति धर्मांतरण संबंधी गतिविधियों में वर्ष 2009 से ही संलिप्त है। इसी सिलसिले में वह मुंबई में भी रहा है। इसके अलावा बिहार स्थित उसके गांव में भी पता लगाया गया है।
क्या है मामला
गौरतलब है कि गांव के बचई प्रजापति की शादी एक साल पूर्व बिहार के गोपालगंज जिले के गोपालपुर थाने के गांव पुरखास निवासी सोनी से हुई थी। शादी के समय से ही सोनी का भाई कन्हैया बहन के घर पर ही रहता था। बताया जा रहा है कि तीन माह पूर्व वह बहन को लेकर मुंबई गया था। एक पखवारे बाद जब दोनों घर लौटे तो सोनी हिदू धर्म त्याग कर प्रभु यीशु की पूजा करने लगी। इस बात को लेकर सोनी व बचई के बीच कई बार विवाद भी हुआ। बचई ने कन्हैया पर मिशनरी के संपर्क में होने तथा सोनी को मतांतरण के लिए प्रेरित करने का आरोप लगाते हुए उसे घर से भगा दिया। एक माह से कन्हैया बहन के घर न आकर उनके पड़ोस में रहने वाले राजाराम प्रजापति के घर आने-जाने लगा। आरोप है कि अक्सर वह बुधवार को उनके घर आता और परिवार में विशेष प्रार्थना सभा आयोजित होती। राजाराम की दो दिव्यांग बेटियां हैं, सुबह से उसके घर में पूजा की तैयारी चल रही थी। दोपहर बाद कन्हैया उनके घर पहुंचा। कुछ देर बाद उनके घर के मुख्य दरवाजे को बंद देख आसपास के लोगों ने घर में मतांतरण कराने की बात कहते हुए हंगामा खड़ा कर दिया। बड़ी संख्या में ग्रामीण दरवाजे पर एकत्रित हो गए। किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घर की तलाशी ली और कन्हैया को हिरासत में ले लिया। मौके से धार्मिक पुस्तक, क्रास का निशान आदि मिला। प्रभारी निरीक्षक आनंद गुप्ता ने बताया कि आरोपित युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। राजाराम ने धर्मातरण जैसी बात से इन्कार किया है। एसडीएम एआर फारुकी ने भी धर्मातरण की बात से इंकार किया।