भाजपा सरकार पूंजीपतियों की: सतीश चंद्र मिश्रा

 | 
भाजपा सरकार पूंजीपतियों की: सतीश चंद्र मिश्रा

अवधनामा संवादाता   

 जौनपुर। केराकत के नार्मल मैदान में सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय की नीतियों पर आधारित सरकार बनने हेतु सुरक्षित विधानसभा सीटों की मण्डल स्तरीय जनसभा का आयोजन विधानसभा प्रभारी डॉ0 लालबहादुर सिद्धार्थ के नेतृत्व में किया गया। बतौर मुख्य अतिथि रहे बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा ने भाजपा सपा व कांग्रेस पर निशाना साधा । उन्होंने  कहा कि उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में ब्राह्मण समाज के लोगो ने जिस तरह से बहुजन समाज के लोगो से भाई चारा बनने का कार्य किये तारीफ के काविल है। पूरे उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार ने सौं से ज्यादा ब्राह्मणों का इनकाउंटर व 500 सौ से ज्यादा ब्राह्मण की हत्याएं की हुए हैं जो बेहद शर्मनाक है । हाल ही में ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में महिलाओं के साथ जो बर्बरता की गई है उससे   भली भांति जानते ह। प्रदेश भर में दलितों पर उत्पीडन की घटना हर रोज पड़ने व देखने को मिल जाती हैं । प्रदेश के हाथरस में बेटी की लाष घर वालो को नही दी गयी और आधी रात में जला दी गयी । अगर विश्व मे झूट बोलने वाली प्रतियोगिता हो जाये तो भाजपा सवसे आगे निकल जायेगी । भाजपा सरकार बड़े बड़े उद्योगपति पूंजीपतियों की सरकार है देश भर में 700 सौ से ज्यादा किसानों की मृत्यु हो गयी और किसानों को गाड़ी के नीचे कुचलने का काम किया है मीडिया जब गाड़ी से कुचलने की बात मंत्री से पूछ लिया तो धक्का मुक्की करने की नौबत आ गयी। बहुजन समाज पार्टी की सरकार में एक भी दंगे नही हुए और सपा सरकार में 135 दंगे हुई ये दंगे होते नही कराये जाते है । बसपा सरकार   विद्यालय, इनवर्सिटी व मेडिकल कालेज बनने का कार्य की है।   अब सिर्फ दस दिन बचे हैं और दस दिनों में चुनाव की घोषणा हो जायेगी आप हमारी बातो को यहॉ छोड़कर मत जाईयेगा बल्कि घर घर जाकर बताने का कार्य करेंगे कि बहन कुमारी मायावती को पांचवी बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे अगर प्रदेश में हमारी सरकार बनी तो पहली प्राथमिकता होगी कि बेरोजगारी को दूर करना ।  संचालन अवधेश भारद्वाज ने किया । सालिम अंसारी पूर्व सांसद,नकुल दुबे पूर्व कैविनेट मंत्री,पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष दिनेश टंडन,डॉ संतोष कुमार मिश्रा आदि उपस्थित रहे।
फोटो 04जेएनपी। केराकत में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीष चन्द मिश्र का स्वागत करते कार्यकर्ता।