भारद ने की राजघाट पर लाशों को जलाने में सहायक ईटों की साफ सफाई

 | 
भारद ने की राजघाट पर लाशों को जलाने में सहायक ईटों की साफ सफाई
अवधनामा संवाददाता 

आजमगढ़। राजघाट की साफ सफाई, सुंदरीकरण अभियान में लगे भारत रक्षा दल के कार्यकर्ताओं ने घाट पर उन ईंट की सफाई की जिनसे बारिश के दौरान चिता लगाने के लिए उपयोग किया गया और जिस पर सैकड़ों लाशें जलाई गईं।

साफ सफाई में लगे कार्यकर्तओं ने बताया कि विगत 15 सालों से हम लोग इस घाट पर साफ सफाई, सुविधा बढ़ाने में लगे हुए हैं। जिसके तहत अपने सदस्यों व जन सहयोग से यहां बहुत सारे कार्य किए गए,आगे यहां शवदाह मशीन की तैयारी है। उसी निर्माण के लिए  ईंट गिरी थी, काम शुरू होने वाला था कि बारिश से घाट पर पानी भर गया। जिससे लोगों को चिता लगाने की समस्या होने लगी तो हम लोगों ने उसी ईंट का अस्थाई चबूतरा बना दिया। जिस पर पानी में भी दाह संस्कार हुआ, अब पानी हट चुका है तो हम लोग उसी ईंट की सफाई कर रहे हैं जिसे मज़दूरों ने साफ करने से मना कर दिया। इस पर जमी राख़ झाड़ कर इसे पानी से धुल देंगे ताकि इस ईंट का उपयोग हो सके। बाढ़ से घाट बहुत गन्दा हो गया था इसे फिर पहले जैसा साफ सुथरा बना देंगे। इस मौके पर प्रदीप सिंह, नन्दलाल यादव, डॉ धीर जी ,नसीम अहमद,सुनील वर्मा,जावेद अंसारी आदि कार्यकर्ताओ ने साफ सफाई में हिस्सा लिया।