मुख्य विकास अधिकारी ने की अधिकारियों के साथ बैठक

सामुदायिक शौचालय के प्रति व्यक्त की नाराजगी 

 | 
मुख्य विकास अधिकारी ने की अधिकारियों के साथ बैठक

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या (Ayodhya)। मुख्य विकास अधिकारी अनीता यादव की अध्यक्षता में जनपद के अधिकारियों की बैठक की गयी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी  द्वारा शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों में से एक स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत निर्मित कराये गये सामुदायिक शौचालय जिनको अभी पूर्ण नहीं कराया गया है, उनके प्रति नाराजगी व्यक्त की गयी तथा उनको एक सप्ताह के भीतर शत-प्रतिशत पूर्ण कराते हुए स्वयं सहायता समूहों को हैण्ड ओवर करते हुए भुगतान करने के निर्देश दिये गये है। ऐसा न होने की दशा में सम्बन्धित कर्मचारी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने हेतु निर्देश दिये गये है। साथ ही मुख्य विकास अधिकारी अयोध्या द्वारा प्रदीप कुमार पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी एवं शीतला प्रसाद सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी, अयोध्या को निर्देशित किया गया कि ऐसे समूह जिनको सामुदायिक शौचालय की जिम्मेदारी सौपे जाने के पश्चात भी कार्य नहीं किया जा रहा, को चिन्हित करते हुए अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए। साथ ही विकास खण्ड स्तर पर तैनात सहायक विकास अधिकारी पंचायत  आई0एस0बी0 बी0एम0एम0 खण्ड प्रेरक द्वारा प्रतिदिन पृथक- पृथक सामुदायिक शौचालयों का औचक निरीक्षण किया जाए तथा प्रत्येक विकास खण्डो पर आवश्यकतानुसार समूह में कार्य करने वाली महिलाओं का उन्मुखीकरण भी किया जाय साथ ही यह भी सुनिश्चत किया जाय कि प्रत्येक दिवस को जनसामान्य की सुविधा को देखते हुए समस्त सामुदायिक शौचालय प्रातः6 बजे से 11 बजे तक एवं सांय 4 बजे से रात्रि 9 बजे तक अनिवार्य रूप से खुला रहे एवं दिन में कम से कम 2 बार हारपिंक से साफ-सफाई की जाय तथा किसी भी सामुदायिक शौचालय का प्रयोग व्यक्तिगत सम्पत्ति की तरह न किया जाय। साथ ही प्रत्येक ग्राम प्रधान द्वारा यह सुनिश्चित किया जाय कि प्रत्येक सामुदायिक शौचालय की 3 चाभियाँ हो जो ग्राम प्रधान, सचिव ग्राम पंचायत एवं स्वयं सहायता समूह के पास उपलब्ध हो। इस प्रकार मुख्य विकास अधिकारी  द्वारा आज की बैठक में सभी सहायक विकास अधिकारी पंचायत से ग्राम पंचायतों के बकाया विद्युत बिलों का भुगतान  तक अनिवार्य रूप से करने हेतु निर्देश दिये गये। उक्त बैठक में जिला विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, समस्त अधिशाषी अभियन्ता, विद्युत विभाग, जिला समन्वयक, पंचायत शिक्षा, समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी, समस्त सहायक विकास अधिकारी (पं0) एवंबी0एम0एम0,

एन0आर0एल0एम0 उपस्थित रहे।