भत्ता बढ़ोतरी पाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गदगद

 | 

अवधनामा संवाददाता

अमबेडकरनगर : नए साल के तीसरे दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पोषण की संवाहक बनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं पर तोहफों की झमाझम बारिश की। कर्तव्य पथ पर इनके कार्यों को सराहा व भत्ता बढ़ोत्तरी की सौगात दी। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सक्रिय रखने के लिए सरकार ने भत्ता देने के लिए खास योजना तैयार की है। इसमें काम के अनुसार उन्हें ज्यादा एवं कम भत्ता दिया जाएगा। सीएम लगातार घोषणा करते गए तो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के चेहरे पर खुशियों की रंगत चटख होती गई।

सोमवार को लखनऊ में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का वर्चुअल सम्मेलन आयोजित किया गया। इसका सजीव प्रसारण दिखाने के लिए समस्त नौ ब्लाक मुख्यालयों पर इंतजाम हुए थे। इसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री का संबोधन सुना व देखा। जिला कार्यक्रम विभाग के तत्वावधान में सभी ब्लाकों के सभागारों में 200-200 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी कार्यकर्ता व सहायिका शामिल हुईं। जिला मुख्यालय के अकबरपुर ब्लाक में सम्मेलन की अध्यक्षता मुख्य विकास अधिकारी घनश्याम मीणा ने की। यहां जिला विकास अधिकारी वीरेंद्र सिंह, सीडीपीओ विनोद कुमार और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उपस्थित रहीं। टांडा में सम्मेलन की अध्यक्षता विधायक संजू देवी ने किया। यहां जिला कार्यक्रम अधिकारी दिनेश कुमार मिश्र व विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे। जहांगीरगंज में आलापुर विधायक अनीता कमल व अन्य ब्लाकों में ब्लाक प्रमुखों ने सम्मेलन की अध्यक्षता की।तोहफा पाकर गदगद कार्यकर्ता : मुख्यमंत्री ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सक्रिय बनाने एवं काम के अनुसार प्रोत्साहन भत्ता दिए जाने की घोषणा की। इसमें अभी तक 5500 रुपये तक भत्ता पाने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को अब आठ हजार रुपये तक प्रोत्साहन भत्ता दिया जाएगा। वहीं मिनी आंगनबाड़ी को अब छह हजार रुपये व सहायिका को चार हजार रुपये तक भत्ता मिलेगा। इससे इतर पहली अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2022 तक निगरानी समितियों एवं कोरोना काल में बेहतरीन काम करने वाली कार्यकर्ताओं को 500 रुपये एवं सहायिकाओं को 250 रुपये मासिक प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने हमारे काम को मान और सम्मान दिया। मेहनत को प्रोत्साहन भत्ता देकर उन्होंने निहाल कर दिया है। इससे काम करने का उत्साह बढ़ा है।