धीमी प्रगति पर कार्यदायी संस्थानों पर तत्काल करे कार्रवाई- जिलाधिकारी

निर्माण कार्यों का डीएम ने किया समीक्षा

 | 
धीमी प्रगति पर कार्यदायी संस्थानों पर तत्काल करे कार्रवाई- जिलाधिकारी

अवधनामा संवाददाता 


कुशीनगर। कार्यदायी संस्थाएं निर्माण कार्यों को तेजी के साथ पूर्ण करा लें। निर्माण कार्य में किसी भी स्तर से लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। जिम्मेदार अधिकारी धीमी प्रगति पर सम्बन्धित के खिलाफ प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करें। 

कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख से अधिक निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने सम्बन्धित अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए उक्त बातें कहा। उक्त बैठक में 50 लाख से अधिक निर्माण कार्य हेतु विभिन्न परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गई। इस क्रम में कसया बस अड्डा,  राजकीय मेडिकल कॉलेज, विभिन्न विकास खंडों में मल्टीपरपज सीड स्टोर (दुदही, नेबुआ नौरंगिया, तमकुही), डीआईओएस कार्यालय का निर्माण, राजकीय महाविद्यालय सुकरौली के निर्माण कार्य की प्रगति, नवीन राजकीय हाई स्कूल मोतीचक व नारायणपुर, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान का सुदृढ़ीकरण, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाटा के निर्माण कार्य की प्रगति, राजकीय इंटर कॉलेज कुड़वा दिलीप नगर तथा खड्डा, राजीव गांधी पंचायत सशक्तिकरण योजना के अंतर्गत जिला पंचायत रिसोर्स सेंटर, तुर्कपट्टी सूर्य मंदिर स्थित विश्राम स्थल, विभिन्न विकासखंड( कसया, हाटा, कप्तानगंज) में अवस्थित अग्निशमन केंद्र, राजकीय आश्रम पद्धति पर आधारित विद्यालय लक्ष्मीपुर, सेतु निर्माण परियोजनाओं के तहत सेतु, बाढ़ खंड कार्यालय, सड़क निर्माण कार्य,  पेयजल मिशन परियोजनाएं, संपर्क मार्ग की प्रगति के निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने संबंधित  कार्यदाई संस्थाओं को शीघ्रता शीघ्र एवं ससमय कार्य पूरा करने का निर्देश  दिया। उन्होंने कहा कि लंबित परियोजनाओं को  शीघ्र पूरा कर लिया जाए। जिन परियोजनाओं में समय ज्यादा हो गया है उन परियोजनाओं के ठेकेदारों के खिलाफ उचित कार्यवाही करने हेतु भी उन्होंने निर्देशित किया। 

इस अवसर पर  डीडीओ आरएस गौतम, डीएसटीओ मोहम्मद  नासेह, बेसिक शिक्षा अधिकारी विमलेश कुमार, डीआईओएस, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग हेमराज सिंह, अधिशासी अभियंता जल निगम व कार्यदायीं संस्थाओं के अधिकारीगण उपस्थित थे।