घर मे आराम फरमाते मिले 2 ज़िला बदर अपराधी

तालकटोरा और मानक नगर पुलिस ने 2 जिला बदर अपराधियो को किया गिरफ्तार

 | 
घर मे आराम फरमाते मिले 2 ज़िला बदर अपराधी

अवधनामा संवाददाता 

लखनऊ। ((Lucknow) लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के द्वारा अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों के खिलाफ चलाई जा रही जिला बदर की कार्रवाई अपराधियों पर कमजोर साबित हो रही है इसका जीता जागता उदाहरण आज मानक नगर और तालकटोरा थाना क्षेत्रों में देखने को मिला मानक नगर पुलिस के द्वारा 15 मार्च 2021 को जिला बदर किया गया अपराधी पंकज मिश्रा जिला बदर की कार्रवाई के बावजूद अपने घर में आराम फरमा रहा था जिसे आज मानक नगर पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया इसी तरह का एक मामला तालकटोरा थाना क्षेत्र में भी देखने को मिला जहां 22 मार्च 2021 को जिला बदर किए गए ई ब्लॉक राजाजीपुरम कॉलोनी तालकटोरा के रहने वाले विकास चतुर्वेदी को आज तालकटोरा पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार किया । इन दोनों अपराधियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश गुंडा अधिनियम के तहत 6 महीने के लिए जिला बदर की कार्रवाई की गई थी बावजूद यह दोनों अपराधी अपने अपने घरों में आराम फरमा रहे थे। जिला बदर अपराधियों के द्वारा जिला बदर की कार्यवाही का उल्लंघन करते हुए अपने अपने घरों में रहने की यह पहली घटना सामने नहीं आई है इससे पहले गुडम्बा पुलिस के द्वारा ज़िला बदर कार्रवाई होने के बावजूद अपने घर में आराम फरमा रहे एक अपराधी को उसके घर से गिरफ्तार किया था। मानक नगर पुलिस के द्वारा आज गिरफ्तार किए गए पंकज मिश्रा के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज हैं और तालकटोरा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए विकास चतुर्वेदी के खिलाफ चार मुकदमे दर्ज है । आज मानक नगर और तालकटोरा पुलिस के द्वारा की गई यह कार्रवाई लखनऊ पुलिस की शिथिल कार्रवाई को उजागर करती है जिससे यह साबित होता है कि अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों पर पुलिस का इकबाल कम हो गया है जिसकी वजह से जिला बदर की कार्यवाही होने के बावजूद अपराधिक प्रवृत्ति के लोग पुलिस की कार्यवाही का उल्लंघन करते हुए अपने-अपने घरों में रह रहे हैं।