विधर्मी शक्तियों से भारत ही न विश्व के हिन्दुओ को खतरा:ठा.सूर्यकांत

 | 
विधर्मी शक्तियों से भारत ही नहीं, विश्व के हिन्दुओ को खतरा:ठा.सूर्यकांत

अवधनामा संवाददाता 

सहारनपुर(Saharanpur)। हिन्दू जागरण मंच के जिला एवं महानगर प्रभारी ठा.सूर्यकांत सिंह ने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय पटल पर जिस प्रकार से जिहादी विधर्मी शक्तियां सिर उठा रही है, वह भारत ही नही, बल्कि समस्त विश्व मे बसे हुए हिन्दू समाज के लिये एक बहुत बडा खतरा है। हमे ऐसी राष्ट्र विरोधी व हिन्दुत्व विरोधी शक्तियों का पर्दाफाश करते हुऐ पुरजोर विरोध करना होगा।

ठा.सूर्यकांत सिंह आज यहां शास्त्रीनगर स्थित संगठन कार्यालय पर आयोजित बैठक में बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने संगठन के विस्तार वविभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा की तथा आगामी कार्यक्रमों हेतु योजना रचना पर विचार किया।उन्होंने आगामी योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जैसा कि प्रधानमंत्री ने 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाने का आह्वान किया है। इसी क्रम मे हिन्दु जागरण मंच के कार्यकर्ता जिले को उन सभी स्थानों व शहरों एवं कस्बो मे जहां 1947 मे पूर्वी पाकिस्तान(बंग्लादेश) व पश्चिमी पाकिस्तान से आकर हिन्दू शरणार्थी बसे थे, का सर्वेक्षण कर चिन्हित करते हुए सूचनाएं एकत्र करके प्रांत को भेंजे, जिससे केंद्र व प्रदेश सरकारों से उन सभी स्थानो पर ठीक उसी प्रकार विभाजन विभीषिका स्मारकों का निर्माण कराये जाने की मांग की जा सकें। जिस प्रकार से अन्य देशो मे विभिन्न विभीषिकाओ व नरसंहारो के स्मारक बनाए गये है। उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय पटल पर जिस प्रकार से जिहादी विधर्मी शक्तिया सिर उठा रही है वह भारतीय ही नही बल्कि समस्त विश्व मे बसे हुए हिन्दू समाज के लिये एक बहुत बडा खतरा दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर के अलगाववादी नेता को पाकिस्तानी झंडे मे लपेटा गया, यह सब सहन नही हो सकता। हमे ऐसी राष्ट्र विरोधी व हिन्दूत्व विरोधी शक्तियांे का पर्दाफाश करते हुऐ पुरजोर विरोध करना होगा। साथ-साथ हिन्दु समाज को जाति, पंथ में बांटने वाली शक्तियांे का भी विरोध करते हुए समरसता स्थापित करने पर बल देना होगा। इसी क्रम में हिन्दू जागरण मंच के तत्वावधान मे ग्राम भूलनी तहसील बेहट मे 8 सितंबर को जिला हिन्दू जागरण मंच के संरक्षक महंत जगराम दास के संयोजन में आहूत रविदासी संत सम्मेलन में अधिक से अधिक कार्यकर्ताओ व हिन्दू राष्ट्र रक्षकों से भाग लेने का आह्वान किया। कार्यक्रम की सफलता के लिए व विभिन्न कार्यकर्ताओ को दायित्व दिये गये। इस अवसर पर महंत मदनदास, राजकुमार शर्मा, महंत जगराम दास, महंत सुंदरदास, ओमबीर पिलखनी, महंत पुष्पेन्द्र दास, महंत अजबदास, शिवम जोगी, सुनील त्यागी, प्रवीण बंसल एडवोकेट, योगेश चौहान, रणबीर ककराला, अजयपाल खेडा, डा.योगेश सैनी आदि उपस्थित रहे।