प्रसव पीड़ित महिला का एम्बुलेंस में कराया सुरक्षित प्रसव 

अवधनामा संवाददाता सोहावल अयोध्या (Sohawal Ayodhya)। जनपद वासियों को स्वास्थ्य के प्रति अपनी जिम्मेदारी देने में पूरी तरह से तत्पर्य 108, 102 व एएलएस एम्बुलेंस ने एक बार फिर प्रसव पीड़ा से कहर रही प्रसूता का एम्बुलेंस में ही सुरक्षित प्रसव करा अपनी जिम्मेदारी को पूरा किया। एम्बुलेंस के ईएमटी व पायलट की इस कार्यशैली
 | 

प्रसव पीड़ित महिला का एम्बुलेंस में कराया सुरक्षित प्रसव 

अवधनामा संवाददाता

सोहावल अयोध्या (Sohawal Ayodhya)। जनपद वासियों को स्वास्थ्य के प्रति अपनी जिम्मेदारी देने में पूरी तरह से तत्पर्य 108, 102 व एएलएस एम्बुलेंस ने एक बार फिर प्रसव पीड़ा से कहर रही प्रसूता का एम्बुलेंस में ही सुरक्षित प्रसव करा अपनी जिम्मेदारी को पूरा किया। एम्बुलेंस के ईएमटी व पायलट की इस कार्यशैली से उनकी घोर प्रशंसा हो रही है। मामला जनपद के सोहावल ब्लाक अंतर्गत आने गांव रामनगर का है। जहां 22 वर्षीय प्रीती पत्नी बालचंद को मंगलवार की दोपहर करीब 1:40 बजे प्रसव पीड़ा होने पर घर के ही जयप्रकाश ने 102 एम्बुलेंस की सेवा लेने के लिए कंट्रोल रूम में फोन किया जिसपर गांव के समीप खड़ी 102 एम्बुलेंस संख्या यूपी 32 ईजी 1453 को लाइन पर लेकर तत्काल मौके पर पहुंचने का निर्देश दिया गया। गांव पहुंची एम्बुलेंस ने प्रसूता को गाड़ी में बिठाया और नजदीकी सरकारी अस्पताल के लिए रवाना हुई। जैसी ही एम्बुलेंस अरकुना चौराहे के निकट पहुंची तभी प्रसूता की प्रसव पीड़ा बढ़ने लगी। मरीज की स्थिति को देखते हुए एम्बुलेंस में मौजूद पायलट बैजनाथ ने गाड़ी को किनारे खड़ी कर दी और ईएमटी सूर्य मणि तिवारी व पायलट ने परिवार की महिला के सहयोग से  प्रसूता का सुरक्षित प्रसव कराया और दोनों को उपकेंद्र तहसीनपुर लेजाकर भर्ती कराया। जहां पर मौजूद चिकित्सक ने जच्चा व बच्चा को स्वास्थ्य बताते हुए उन्हें भर्ती कर लिया। यह जानकारी एम्बुलेंस सेवा के जिला प्रभारी इरफान सिद्दीकी ने देते हुए ईएमटी व पायलट को शुभकामना दी।