महिलाओं की शिकायतों पर तत्काल और प्रभावीकार्यवाही की जाए: कुमुद श्रीवास्तव

 | 
महिलाओं की शिकायतों पर तत्काल और प्रभावीकार्यवाही की जाए: कुमुद श्रीवास्तव

अवधनामा संवाददाता 

सहारनपुर (Saharanpur)। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्या श्रीमती कुमुद श्रीवास्तव ने कहा कि महिला छेड़छाड़, घरेलू हिंसा, दहेज उत्पीड़न, एसिड अटैक तथा साइबर क्राइम से पीड़ित महिलाओं की शिकायतों पर तत्काल और प्रभावी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों का त्वरित निस्तारण करते हुए महिलाओं एवं बालकों की सुरक्षा एवं संरक्षण हेतु बनाये गये अधिनियमों का कड़ाई से अनुपालन किया जाए। उन्होंनेकहा कि पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि महिलाओं और बालिकाओं के प्रति अपराध करने वाले अपराधी खुलें में न घूमने पायें।

श्रीमती कुमुद श्रीवास्तव आज सर्किट हाउस सभागार में महिलाओं से संबंधित शिकायतों की जनसुनवाई कर रहीं थी। उन्हांेने कहा कि महिलाओं एवं बालकों के उत्पीड़न की कार्यवाही का तत्काल संज्ञान लेकर त्वरित न्याय दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होने कहा कि शिकायती मामलों में पूरी जांच के उपरान्त ही कार्यवाही की जाए। उन्होने यह भी कहा कि यदि किसी को अपना हक नहीं मिल पाए, तो कानूनी सहायता तथा विधिक सेवा प्राप्त करने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को अवगत कराएं। उन्होने कहा कि हमें समाज में संवेदनशील होने की आवश्यकता है।

राज्य महिला आयोग की सदस्य ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि थाने पर आने वाली महिलाओं की शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाए। किसी भी पीड़ित महिला का उत्पीड़न न होने पाये। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारी महिला उत्पीड़न मामलों की गहन पाक्षिक समीक्षा करें। महिलाओं के प्रति अपराधों को आदि अपराधियांे को चिन्हित कर उनके विरूद्ध कठोर सुसंगत धाराओं में प्रभावी कार्यवाही की जाए। जिससे भविष्य में ऐसे अपराध करने के बारे में न सोच सकें।

जनसुनवाई के दौरान 11 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। शाहीन, मुस्कान, रीता तथा सोनम ने घरेलू हिंसा, रेनू धीमान, गीता राय तथा अंजिता से तनख्वाह, सोना देवी ने आयुष्मान कार्ड बनवाने, सोनिया सैनी ने बच्चों से संबंधित तथा पुष्पा देवी ने किरायेदार से संबंधित शिकायतों के निस्तारण के लिए तथा पवित्रा ने मिशन शक्ति अभियान में कार्य करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया। उन्होंने प्राप्त प्रार्थना पत्रों पर अधिकारियों को समयबद्ध समुचित कार्यवाही के निर्देश दिए।जनसुनवाई के दौरान अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉ0 अर्चना द्विवेदी, उप निदेशक महिला कल्याण पुष्पेन्द्र सिंह, क्षेत्राधिकारी शहर प्रथम चन्द्रपाल शर्मा, डिप्टी जेलर अभय कुमार शुक्ला, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती आशा त्रिपाठी तथा संबंधित विभाग के अधिकारीगण व शिकायतकर्ता उपस्थित रहे।