जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में की समीक्षा बैठक

6 सितम्बर को आयोजित होगा कोविड मेगा टीकाकरण 

 | 
जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में की समीक्षा बैठक

अवधनामा संवाददाता

अयोध्या (Ayodhya) । जिलाधिकारी  अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में संचारी रोग के अन्तर्गत डेंगू की रोकथाम एवं कोविड मेगा टीकाकरण  6 सितम्बर 2021 को आयोजित किया जायेगा।  संचारी रोगों पर प्रभावी नियंण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। उन्होंने संचारी रोग नियंत्रण अभियान हेतु चिन्हित अन्तर्विभागीय गतिविधियां पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को जन जागरूकता अभियान चलाये, रोगियों के उपचार की व्यवस्था, संचारी रोगों तथा दिमागी बुखार के रोगियों की निगरानी (सर्विलांस), फ्रंट लाइन वर्कस द्वारा उपलब्ध करायी गयी क्षय रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों की सूची में उल्लिखित रोगियों की लक्षण के अनुसार क्षय रोग हेतु जांच एवं रोगियों के उपचार की व्यवस्था, रोगियों के निःशुल्क परिवहन हेतु रोगी वाहन की सेवा की व्यवस्था, ग्राम्य एवं नगर विकास विभाग से समन्वय स्थापित करते हुये वाहक नियंत्रण गतिविधियां , प्रचार-प्रसार एवं व्यवहार परिवर्तन गतिविधियां , माॅनीटरिंग , पर्यवेक्षण , रिपोर्टिंग , अभिलेखीकरण एवं विश्लेषण की समीक्षा करें। इसके अन्तर्गत उन्होंने ग्राम्य विकास/पंचायती राज विभाग को ग्रामों से नालियों की साफ सफाई, जलभराव का निस्तारण, ग्रामवासियों के सहयोग से श्रमदान द्वारा झाड़ियों की कटाई, उथले हैंडपम्प को लाल रंग से चिन्हीकरण एवं इंडिया मार्क 2 हैंडपम्प/प्लेटफार्म की मरम्मत, ग्रामों में लार्वीसाइडल स्प्रे गतिविधि, मनरेगा फण्ड से फागिंग की मजदूरी का भुगतान, ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी के बीच वाले तालाबों को अपशिष्ट तथा प्रदूषण मुक्त रखना, ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायती राज विभाग द्वारा ए0ई0एस0/जे0ई0 एवं अन्य संक्रामक रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु माइकिंग के माध्यम प्रचार-प्रसार , ग्राम स्तर पर प्रभात फेरी , ग्रामवासियों के साथ साफ सफाई की प्रतिज्ञा , ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम निगरानी समितियों के माध्यम से कोविड तथा संचारी रोगों के विषय में निरंतर जागरूकता स्थापित रखना तथा कोविड रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों को मेडिसिन उपलब्ध कराने में सहयोग करना होगा। उन्होंने शिक्षा विभाग को सभी विद्यालयों में स्वास्थ्य नोडल अध्यापक चिन्हित कर जनपद स्तर पर डायरेक्टरी तैयार किया जाना , शिक्षा विभाग द्वारा अभिभावक-अध्यापक व्हाट्सएप् गु्प्र द्वारा आडियों-वीडियो कम्यूनिकेशन द्वारा मीटिंग तथा संचारी रोगों के रोकथाम, सोशल डिस्टेन्सिंग एवं साफ सफाई के बारे में जानकारी दी जायेगी तथा अध्यापकों द्वारा छात्रों फीवर ट्रैकिंग, प्रचार प्रसार आदि का कार्य कराया जायेगा। वे छात्र जो एनसीसी/एनएसएस अथवा स्काउट में प्रतिभाग कर रहे है उनके द्वारा कोविड वालेन्टियर्स का कार्य भी लिया जा सकता है। इसके अन्तर्गत नगर निगम/शहरी विकास को नगरीय निकायों के चुने हुये जनप्रतिनिधियों का संचारी रोगों की रोकथाम तथा साफ सफाई के सम्बंध में स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से संवेदीकरण, नगरीय क्षेत्र में मोहल्ला निगरानी समितियों के माध्यम से कोविड तथा संचारी रोगों के विषय में निरंतर जागरूकता स्थापित रखना तथा कोविड रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों को मेडिसिन उपलब्ध कराने में सहयोग करना, नलियों/कचरे की सफाई करवाना-स्वास्थ्य विभाग से समन्वय स्थापित करते हुये फागिंग, लार्वी साइडल स्पे्र तथा साफ सफाई गतिविधियों की समेकित कार्ययोजना ,

शहरी क्षेत्रों में फागिंग करवाना , नगरीय क्षेत्रों में वातावरणीय व व्यक्तिगत स्वच्छता के उपायों, खुले में शौच न करने एवं शुद्व पेयजल के प्रयोग तथा मच्छरों की रोकथाम हेतु जागरूकता अभियान संचालित करना, खुली नालियों को ढकने की व्यवस्था करना, नगरीय क्षेत्रों में ए0ई0एस0/जेई एवं अन्य संक्रामक रोगों की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु माइकिंग के माध्यम से प्रचार प्रसार करना। इसके अन्तर्गत कृषि विभाग को आवासीय क्षेत्रों के आसपास छछून्दर , चूहों आदि को नियंत्रित करने हेतु उपाय करें। पशुपालन विभाग आबादी वाले क्षेत्रों से सूकर बाड़ो को दूर रखने हेतु जागरूक करना तथा सूकर पालकों को अन्य व्यवसाय अपनाने हेतु प्रेरित करना, जानवरों के पालन स्थल को स्वच्छ रखने हेतु जागरूक करना। इसी तरह स्वच्छ भारत मिशन को उच्च रोगभार वाले ग्रामों को प्राथमिकता के आधार पर खुले में शौच से मुक्त करना। उद्यान विभाग को सार्वजनिक उद्यानों एवं विद्यालयों में मच्छर विकर्षी पौधों का रोपण करना है। जिलाधिकारी ने सूचना विभाग से सभी स्तरों पर विभिन्न विभागों से नियमित संपर्क एवं समन्वय स्थापित कर विभागों द्वारा की जा रही कार्यवाही तथा गतिविधियो का विभिन्न सूचना माध्यमों से व्यापक प्रचार प्रसार करना है।

जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड टेस्टिंग में सीएचसी पर आरटीपीसीआर बहुत कम हो रहा है, जिसमें तेजी लाने के निर्देश दिये है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि 6 सितम्बर 2021 को मेगा बैक्सीन का राउण्ड चलेगा, जिसमें हमें कुछ शिक्षकों की आवश्यकता पड़ेगी, जिस पर जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी से मेगा बैक्सीन में शिक्षकों को कैम्प में लगाने को कहा और अतिशीघ्र सूची उपलब्ध कराने को कहा। जिलाधिकारी ने अन्त में कहा कि आप प्लान बना लें , जो लोग लगे, बैक्सीन टाइन से पहुंच जाये। यदि जरूरत पड़े तो मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बीडीओ के साथ बैठक कर लें।