Home EPaper Urdu EPaper Hindi National Uttar Pradesh Special Report Editorial Muharram Entertainment Health Support Avadhnama

योगी सरकार को कहा धर्म का अपमान करने वाली सरकार

ads
JOIN US-9918956492———————————————————-
अपने व्हाट्सप्प ग्रुप में 9918956492 को जोड़े—————————————— 
उत्तर प्रदेश में ‘भगवा राजनीति’ अजीबोग़रीब रंग लेती जा रही है. अब यहां से ख़बर आई है कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गृह जिले इटावा के गामीण इलाके में शौचालयों को भगवा (केसरिया) रंग दिया गया है. ऐसे शौचालयों की तादाद क़रीब 100 बताई जाती है.

जिले के बसरेहर ब्लॉक पंचायत में तीन गांव आते हैं. यहां की आबादी क़रीब 800 है. इन गांवों को स्वच्छ भारत अभियान के तहत खुले में शौच से मुक्त करने के अभियान के तहत यहां शौचालय बनवाए गए हैं. इन्हीं को केसरिया रंग से रंगा गया है. गांव के मुखिया वेद पाल सिंह के मुताबिक़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिस तरह स्वच्छता अभियान को प्रोत्सहित कर रहे हैं उसके प्रति समर्थन जताने के लिए पंचायत ने अपनी तरफ़ से ही यह कदम उठाया है. जिन 100 शौचालयों को भगवा रंग में रंगा गया है उनके अलावा 350 शौचालय और हैं. उन्हें लाभार्थियों की पसंद के अनुसार लाल, पीले या सफ़ेद रंग से रंगा गया है.

यही नहीं, 500 शौचालय और बनाए जाने की मंजूरी मिल चुकी है. वेद पाल सिंह के मुताबिक बनने के बाद उन्हें भी भगवा रंग से रंगा जा सकता है. उन्हाेंने इस बात पर जोर दिया कि यह फ़ैसला पंचायत का है. इसमें न सरकार की कोई भूमिका है न राजनीतिक दबाव. बसरेहर के ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफ़िसर प्रशांत सिंह ने भी कहा, ‘शौचालयों को किस रंग से रंगा जाए इस बाबत ग्राम प्रधानों को सरकार की तरफ़ से कोई निर्देश नहीं दिया गया है. यह लाभार्थियों के ऊपर है कि वे अपने यहां बने शौचालय में कैसा रंग करवाते हैं.’

हालांकि इस सफाई के बावज़ूद विपक्षी पार्टियों ने सरकार हमला करने का मौका नहीं छोड़ा है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, ‘ये धर्म का अपमान करने वाली सरकार है. भगवा वाले बाथरूम में कोई जाएगा तो सोचो किसका अपमान होगा? लोगाें के भले के लिए कोई कदम उठाने के बजाय भाजपा सरकार इस तरह के कामों सेे सिर्फ़ उनका ध्यान भटकाने का काम कर रही है. लेकिन इससे कोई बदलाव नहीं आने वाला.’

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा, ‘वह (भगवा) सिर्फ़ रंग नहीं है. हमारी आस्था है. शौचालय पर आस्था वाला रंग?’ यहां याद दिला दें कि इससे पहले सचिवालय, सरकारी बसें, बिजली के खंभे, सरकारी दफ्तरों का फर्नीचर, डायरी, तौलिया, लखनऊ स्थित हज कमेटी का ऑफिस, पुलिस स्टेशन आदि को भी भगवा रंग से रंगे जाने के कारण प्रदेश की योगी सरकार सुर्ख़ियों में आ चुकी है.

https://www.youtube.com/watch?v=VRpNjJlLTY0&t=110s


अवधनामा के साथ आप भी रहे अपडेट हमे लाइक करे फेसबुक पर और फॉलो करे ट्विटर पर साथ ही हमारे वीडियो के लिए यूट्यूब पर हमारा चैनल avadhnama सब्स्क्राइब करना न भूले अपना सुझाव हमे नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते है|
ads

Leave a Comment

ads

You may like

Hot Videos
ads
In the news
post-image
Marquee Slider Special Report World

USA में सिन्धी, बलोच और पख्तूनों ने मोदी से लगाई गुहार, बांग्लादेश की तरह करवाएं पाकिस्तान से आजाद

ह्यूस्टन। सिन्धी, बलोच और पख्तून समूह के प्रतिनिधि अमेरिका के ह्यूस्टन स्थित NRG स्टेडियम के सामने रविवार को एकसाथ प्रदर्शन कर पाकिस्तान से आजादी के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी...
post-image
Marquee Muslim World Slider Special Report World

कुछ देशों के लिए तेल, ख़ून से ज़्यादा मूल्यवान हैः सैयद हसन नसरुल्लाह

लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के महासचिव ने कहा है कि यमनी बलों की जवाबी कार्यवाही पर कुछ देशों की प्रतिक्रिया से पता चलता है कि उनके लिए ख़ून के...
post-image
Marquee Muslim World Slider Special Report World

ईरान के ख़िलाफ़ आरोपों को सऊदी सरकार भी सही नहीं मानतीः ज़रीफ़

विदेश मंत्री ने यमन के मामले में ईरान पर लगाए जाने वाले आरोपों की तरफ़ इशारा करते हुए कहा है कि स्वयं सऊदी अरब की सरकार भी ईरान के...
post-image
Marquee Muslim World Slider Special Report World

इराक में कर्बला के बाहर भीषण विस्फोट, 12 लोग शहीद

  इराक के पवित्र शहर कर्बला के बाहर यात्रियों से भरी एक मिनीबस में किए गए बम विस्फोट में 12 लोगों की शहादत हो गई। बगदाद: इराक में एक...
Load More
ads