पाकिस्तान में पेट्रोल से भी महंगी बिक रही चीनी

 | 
पाकिस्तान में पेट्रोल से भी महंगी बिक रही चीनी

इस्लामाबाद। कर्ज लेकर अपनी जरूरतें पूरी करने वाले पाकिस्तान में महंगाई चरम पर है और लोग त्रहि-त्रहि कर रही है। खाने-पीने की चीजों में तो जैसे आग लगी हुई है। चीनी की कीमत आसमान छूती जा रही है। यह पेट्रोल से भी ज्यादा महंगी हो गई है। देश में चीनी 150 रुपये प्रति किलोग्राम बिक रही है, जबकि पेट्रोल के दाम 146 रुपये प्रति लीटर है। इमरान खान सरकार ने गुरुवार को पेट्रोल के दाम में प्रति लीटर 8.14 रुपये प्रति की वृद्धि की। सरकार के इस फैसले को लेकर विपक्षी दलों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। विपक्षी दलों के नेताओं ने कहा है कि सरकार ने एक और पेट्रोल बम फोड़ दिया है।

जियो न्यूज के अनुसार, सरकार के आवश्यक वस्तुओं की कीमतों पर काबू पाने के आश्वासन के बावजूद चीनी विभिन्न शहरों में 150 रुपये प्रति किलोग्राम बिक रही है। पेट्रोल का दाम बढ़कर 145.82 रुपये प्रति लीटर हो गया है। पेशावर के थोक बाजार में चीनी की कीमत में आठ रुपये प्रति किलो की वृद्धि हुई है। चीनी विक्रेता संघ के अध्यक्ष ने कहा कि थोक में चीनी 140 रुपये प्रति किलो बिक रही है, जबकि खुदरा बाजार में इसकी कीमत 145 से 150 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है। उल्लेखनीय है कि देश में आटा, तेल, दालें समेत खाने-पीने की तकरीबन हर चीज काफी महंगी हो गई है।

पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष एवं नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने इमरान खान द्वारा हाल ही में घोषित किए गए 12 अरब रुपये के राहत पैकेज को झूठ का पुलिंदा बताया है। शरीफ ने कहा, इमरान खान के तमाम वादे और बजट की तरह यह राहत पैकेज भी झूठ का पुलिंदा है।

उन्होंने सवाल किया कि क्या संघीय बजट की घोषणा करते वक्त यह दावा नहीं किया गया था कि यह कर मुक्त बजट है। अब प्रधानमंत्री राष्ट्र के नाम संबोधन में राष्ट्रहित में पेट्रोल की कीमत बढ़ाने की बात कह रहे हैं। दरअसल सरकार ने एक और पेट्रोल बम फोड़ दिया है।

शरीफ ने आगे कहा कि इमरान सरकार ने बढ़ती महंगाई पर काबू पाने के लिए कैसी रणनीति बनाई है, जब वह पेट्रोल, बिजली और गैस की कीमतें बढ़ाने की बात कर रही है। शहबाज शरीफ ने कहा, सरकार के बजट आकलन भी अविश्वसनीय हैं।

कर्ज देने के बदले आइएमएफ की शर्तो से देश परेशान है। पाकिस्तान कर्ज के बोझ से दबा जा रहा है। शरीफ ने महंगाई को लेकर इमरान खान सरकार की निंदा करते हुए कहा कि देश में चीनी का सिर्फ 15 दिन का स्टाक बचा है। आगे क्या होगा। सरकार को इसका पता नहीं। जियो न्यूज के अनुसार, शरीफ ने कहा है कि इमरान खान बड़ी-बड़ी बातें करने के अलावा कुछ नहीं करते हैं।