धर्मान्तरण मामले में गिरफ्तार मौलाना कदीम को रिहा करने की मांग

आसपा ने प्रदेश के राज्यपाल को भेजा ज्ञापन
 | 
धर्मान्तरण मामले में गिरफ्तार मौलाना कदीम को रिहा करने की मांग

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर। धर्मान्तरण के मामले मे गिरफ्तार मौलाना कलीम सिद्दकी को रिहा किए जाने की मांग करते हुए आजाद समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा।

आज आसपा के जिलाध्यक्ष कर्मवीर सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मण्डल जिलाधिकारी अखिलेश सिंह से मिला और राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन में कहा कि ग्राम फुलत जनपद मुज़फ्फरनगर निवासी मौलाना कलीम सिद्दकी प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान दारुल उलूम नदवातुल उलमा लखनऊ से इस्लामिक शिक्षा एवं मेरठ कॉलेज से वीएससी की शिक्षा प्राप्त करने के उपरांत अपने ही जनपद मुज़फ्फरनगर में मदरसे में विद्यार्थियों को इस्लामिक शिक्षा देना प्रारम्भ किया। उन्होंने हमेशा देश के कानून संविधान को सर्वाेपरी रखा और भारत के सभी जाति एव धर्माे की हमेशा इज्जत की और अपने शिष्यों को भी यही शिक्षा दी।उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के इशारे पर मौलाना कलीम सिद्दकी को गिरफ्तार किया गया है, इसके पीछे साजिश है कि मुसलमान सड़कों पर उतरें और सरकार के इशारे पर पुलिस को गोली मारने का मौका दिया जाए, ताकि राज्य में माहौल बिगड़ जाए। लेकिन आसपा उत्तर प्रदेश को फिर से दंगा राज्य नहीं बनने देंगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश एटीएस द्वारा राजनैतिक दबाओं के कारण बिना किसी ठोस सबूत के उन्हें सरकार के इशारे पर प्रताड़ित करने के उद्देश्य से  गिरफ्तार किया गया है, जो किसी भी प्रकार से न्यायोचित नहीं है और उनके परिजनों को उनसे मिलने भी नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने मांग कीकि मौलाना कलीम सिद्दीकी को तत्काल रिहा किया जाये और दोषियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाही की जाये। डीएम से मिलने वालो में