प्रियंका गांधी को गिरफ्तार किए जाने के विरोध में दी गिरफ्तारियां

कांग्रेसियों ने जुलूस निकाल किया प्रदर्शने
 | 
प्रियंका गांधी को गिरफ्तार किए जाने के विरोध में दी गिरफ्तारियां

अवधनामा संवाददाता

सहारनपुर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाते हुए गिरफ्तार किए जाने के विरोध में आज जिला व महानगर कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया और सांकेतिक गिरफ्तारियां भी दी। बाद में सभी कांग्रेसियों को निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

लखीमपुर खीरी मेंप्रियंका गांधी की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेसियों में उबाल है। आज इसी के तहत सभी कांग्रेसजन कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी मुजफ्फर अली महानगर अध्यक्ष वरुण शर्मा के नेतृत्व में इकट्ठा हुए और नगर में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदेश सचिव प्रवीण चौधरी युवा कांग्रेस प्रदेश महासचिव विजय शर्मा वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री  उमा भूषण एआईसीसी सदस्य जावेद साबरी अशोक सैनी प्रवक्ता गणेश दत्त शर्मा  जिला उपाध्यक्ष मनीष त्यागी चंद्रजीत सिंह निक्कू वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनीष अरोड़ा अरुण चौधरी युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष नितिन शर्मा सहित सैकड़ों कांग्रेसजनों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और पुलिस वाहनों से उन्हें पुलिस लाइन लाया गया। इससे पहले आज सुबह 215 कांग्रेसियों का एक दल जब प्रदेश प्रवक्ता शशी वालिया के आवास से रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुआ, तो उन्हें रास्ते में पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया और मौके से शशी वालिया के साथ सेवादल अध्यक्ष इमरान कुरेशी पंचायती राज जिला अध्यक्ष संजय वालिया अनुसूचित जाति विभाग जिला अध्यक्ष अरविंद पालीवाल इकराम खान आदि कुछ लोगों को गाड़ी में बैठाकर पुलिस लाइन लाया गया जबकि शेष बचे कार्यकर्ताओं में से कुछ नारेबाजी करते हुए अपने वाहनों पर पुलिस लाइन पहुंचे। पुलिस लाइन पहुंचने पर सभी कार्यकर्ताओं ने जोरदार नारेबाजी करते हुए अपनी नेता  प्रियंका गांधी की तुरंत रिहाई किए जाने और उन्हें लखीमपुर खीरी किसानों के पीड़ित परिवारों से मिलने जाने देने की मांग की। पुलिस लाइन में कांग्रेसजनों ने धरना शुरू किया और वक्ताओं ने भाजपा की मोदी-योगी सरकारों को जनता के उत्पीड़न व लोकतंत्र की हत्या का दोषी बताया।जिलाध्यक्ष चौधरी मुजफ्फर अली व महानगर अध्यक्ष वरुण शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकारें देश में जनता और विपक्ष की आवाज दबाकर लोकतंत्र की हत्या कर रही हैं और इसका विरोध करते हुए कांग्रेस लंबे संघर्ष के लिए मन बना चुकी है। चौधरी मुजफ्फर ने कहा कि हम ना डरेंगे ना झुकेंगे और जनहित में संघर्ष करते हुए लोकतंत्र की रक्षा करेंगे।इस दौरान कांग्रेसियों को सूचना मिली कि प्रियंका गांधी समेत अन्य को रिहा कर दिया गया है तब वह जाकर शांत हुए। हिरासत में लिए गए कांग्रेसजनों में प्रवक्ता गणेश दत्त शर्मा राकेश मोगा अब्दुल कादिर त्यागी वीरसेन उपाध्याय पवन कुमार सतीश शर्मा इसरार मलिक सचिन वर्मा गुलफाम मलिक रेहान अहमद बलराम सिंह सतपाल बर्मन विपिन राणा शिव कुमार राणा चेतन लाल सूर्यकांत कौशिक नसीम खान शेख अर्शराहुल वशिष्ठ सादाब चौधरी आदि शामिल रहे।