सोसाइटी ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेज एंड रूरल डेवलपमेंट प्रयागराज में इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस का समापन समारोह संपन्न

 | 
 सोसाइटी ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेज एंड रूरल डेवलपमेंट प्रयागराज में इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस का समापन समारोह संपन्न
अवधनामा संवाददाता 

प्रयागराज :  सोसाइटी ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेस एंड रूरल डेवलपमेंट प्रयागराज में सोमवार को विज्ञान परिषद, प्रयाग के सभागार में इमर्जिंग सस्टेनेबिलिटी ट्रेन्डस इन एग्रीकल्चरल रूरल एंड एनवायरमेंटल डेवलपमेंट नामक विषय पर दो दिवसीय इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस का समापन हुआ।
 इस कार्यक्रम में सभी अतिथियों का स्वागत एवं दो दिवसीय कार्यक्रम की रिपोर्ट  डॉक्टर हेमलता पंत, आयोजक सचिव , इंटरनेशनल कांफ्रेंस में दी।
 समापन समारोह के मुख्य अतिथि प्रोफ़ेसर संजय श्रीवास्तव ,माननीय कुलपति ,नेहरू ग्राम भारती विश्वविद्यालय , प्रयागराज में अपने उद्बोधन में कृषि, पर्यावरण एवं ग्रामीण विकास में स्थायित्व लाने हेतु विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत चर्चा की। प्रोफेसर श्रीवास्तव ने कहा कि हमें नई तकनीकों के साथ-साथ परंपरागत पद्धतियों का सामंजस्य रखना होगा। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता मानद प्रोफ़ेसर ,ट्रिपल आईटी ,झलवा, प्रयागराज   प्रोफ़ेसर कृष्णा मिश्रा ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में  सभी को यह सुझाव दिया कि आप जब भी किसी परियोजना को सरकारी ग्रांट के लिए भेजते हैं तो उसका प्रस्तुतीकरण सही तरीके से करना सीखना आप सभी को आवश्यक है। इसी के साथ साथ मैडम ने महिला सशक्तिकरण की बात भी की ।
इस कार्यक्रम के अतिथि शिव जी मालवीय, डिप्टी सेक्रेटरी ,हायर एजुकेशन , उत्तर प्रदेश ने भी अपने विचार रखे।
 इस कार्यक्रम में संस्था द्वारा प्रकाशित चार पुस्तकों का विमोचन भी किया गया ।
इसके साथ साथ विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्यों हेतु विभिन्न वैज्ञानिकों, प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया गया ।
इस कार्यक्रम में डॉ प्रदीप कुमार, डॉ मनोज कुमार सिंह ,डॉ उमा रानी अग्रवाल ,डॉ अर्चना पांडे ,डॉ अमिता पांडे ,डॉक्टर पवन पचौरी ,डॉ शशि कांत त्रिपाठी , डॉक्टर एम के सिंह, डॉ मनीष कुमार सिंह, डॉ आभा त्रिपाठी डॉ नी ति मिश्रा , डॉ ज्योति वर्मा,  डॉक्टर अवधेश संत , डॉ दीपक वर्मा,  डॉक्टर पल्लवी राय , हर्षिता पंत सहित सैकड़ों छात्र-छात्राएं उपस्थित थे ।
कार्यक्रम का संचालन कुमारी साधना त्रिपाठी तथा धन्यवाद ज्ञापन डॉक्टर संदीप कुशवाहा ने दिया।