राज्य महिला आयोग की सदस्या ने सुनी फरियाद, 101 मामले में 14 को मिला न्याय

महिला उत्पीड़न से जुड़ी समस्याओं को तत्काल निस्तारण करे-संगीता 

 | 
राज्य महिला आयोग की सदस्या ने सुनी फरियाद, 101 मामले में 14 को मिला न्याय

अवधनामा संवाददाता

कुशीनगर। उ0प्र0 राज्य महिला आयोग की सदस्या संगीता तिवारी ने कहा कि महिला से जुड़ी समस्याओं को तत्काल निस्तारण करे। निस्तारण में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी। सरकार भी महिलाओं के प्रति गंभीर है।उक्त बातें बुधवार को जिला मुख्यालय स्थित सर्किट हाउस में उप्र राज्य महिला आयोग की सदस्या संगीता तिवारी ने महिला जनसुनवाई के दौरान कही। जनसुनवाई के दौरान सदस्या के समक्ष कुल 101 प्रकरण प्रस्तुत हुये, जिसमें  घरेलू हिंसा, मार-पीट, जमीन विवाद, आवास, सहित अन्य प्रकरणों से सम्बंधित आवेदन पत्र प्रस्तुत किये गए। जिसमे कुल 14 मामलों का निस्तारण मौके पर कर दिया गया तथा  आवास से सम्बंधित कुल 65 मामलों सहित अन्य विभाग से सम्बंधित मामलों को भी निस्तारण हेतु सम्बन्धित विभाग को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करने का निर्देश दिए गए।राज्य महिला आयोग की सदस्या ने समस्त प्रकरणों को गम्भीरता पूर्वक सुनते हुये निर्देशित किया कि निष्पक्ष रुप से जांच करते हुए समयबद्धता के साथ अधिकारी गण निस्तारण करायें। उन्होंने गम्भीर प्रकरणों से सम्बंधित कुल 29 मामलों सम्बन्धित पत्रावलियों को आयोग के समक्ष प्रस्तुत कर निस्तारण हेतु अपने साथ ले गई। जन सुनवाई दौरान अर्तिका गौंड, तबारक अली, सुभावती देवी, उषा देवी, सत्यवती, तैयबा, रिंकी शर्मा, जलेबन निशा, रुबीना खातून, सहित जनपद के विभिन्न क्षेत्रों से आई पीड़ित महिलाओं ने अपने अपने आवेदन पत्र प्रस्तुत किये। महिला जनसुनवाई के दौरान जिला प्रोवेशन अधिकारी विनय कुमार, महिला थानाध्यक्ष रेखा देवी, समाज सेवी ममता तिवारी, के साथ महिला कल्याण अधिकारी,  वन स्टाप सेन्टर, सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।