ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों को मिला पहला किस्त

सीएम योगी ने किया शुभारम्भ, कलेक्ट्रेट सभागार में श्रमिकों ने देखा लाइव
 | 
ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों को मिला पहला किस्त

अवधनामा संवाददाता

कुशीनगर। कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर की सम्भावना को देखते हुए उ0प्र0 असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा बोर्ड (ई-श्रम पोर्टल) पर पंजीकृत असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ते की प्रथम किस्त सोमवार को श्रमिकों के खाते में एक हजार रुपये भेजा गया जिसका शुभारम्भ मुख्यमंत्री योगी आदित्य ने किया। कार्यक्रम का लाइव प्रसारण श्रमिकों ने कुशीनगर कलेक्ट्रेट सभागार में विधायक कुशीनगर रजनीकांत मणि त्रिपाठी व जिलाधिकारी एस राजलिंगम की उपस्थिति में देखा।

             कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप मे पहुंचे विधायक कुशीनगर रजनीकांत ने उपस्थित असंगठित कामगारों को जानकारी देते हुये कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न हितकारी योजनाओं (भरण-पोषण भत्ता धनराशि एवं दो लाख का दुर्घटना बीमा एवं अस्थायी अपंगता में एक लाख का हितलाभ) के बारे में विस्तार से अवगत कराया गया तथा 15 असंगठित कामगारों क्रमशः सुजीत यादव, श्रीमती राबड़ी देवी, जितेंद्र प्रजापति, सुखिया देवी , श्रीमती आशा रानी, नीतू शर्मा, आदि को भरण-पोषण भत्ता (आपदा राहत) के प्रथम किस्त के हितलाभ का प्रमाण-पत्र वितरित किया गया। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल के सपने को साकार करने के क्रम में समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने का जो लक्ष्य रखा गया है उसी के क्रम में यह सरकार की पहल है उन्होंने सभी कार्य कर्मकारों को संबोधित करते हुए कहा कि अपने बच्चों को निश्चित रूप से आगे बढ़ाएं एवं उनकी पढ़ाई की चिंता करें साथ ही संकल्प लें कि बेटा और बेटी दोनों को पढ़ाना है। जिलाधिकारी ने श्रम प्रवर्तन अधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद में श्रमिकों के पंजीकरण के लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिशत कार्यवाही सुनिश्चित करें। इस अवसर पर सहा0 श्रमायुक्त, श्रम प्रवर्तन अधिकारी के साथ अन्य संबंधित व संगठित एवं असंगठित कामगार उपस्थित रहे।