इमरान मसूद ने सपा में शामिल होने का किया ऐलान

भाजपा को सत्ता से उखाड फेंकने को लिया फैसला: इमरान
 
 | 
इमरान मसूद ने सपा मंे शामिल होने का किया ऐलान

अवधनामा संवाददाता 

सहारनपुर। पिछले लंबे समय से कांग्रेस छोड़ सपा में शामिल होने की चर्चाओं पर आज पूर्व विधायक इमरान मसूद ने आज पूरी तरह विराम लगाते हुए अपने समर्थकों की बैठक मंेे ऐलान कर दिया कि वह विधान सभा चुनाव मंें समाजवादी पार्टी में शामिल होकर पार्टी सुप्रीमों का सभी सातों सीटांे पर समर्थन करेंगे, ताकि इस जनविरोधी भाजपा सरकार को सत्ता से अलग किया जा सकें। उन्होंने कहा कि वह शीघ्र ही समय लेकर लखनऊ में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के समक्ष सपा में शामिल होने की घोषणा करेंगे।
पूर्व घोषित कार्यक्रम के मुताबिक आज अम्बाला रोड स्थित अपने आवास पर पार्टी कार्यकर्ताआंे से राय मुशवरा के लिए इमरान मसूद द्वारा बैठक बुलायी थी। आज सुबह से ही अम्बाला रोड स्थित उनके आवास पर समर्थकों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया था। सुबह से ही उनके समर्थक भारी संख्या मे आवास पर पहुंचने लगे थे और भीड़ को देखते हुए भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया था। इस दौरान आचार संहिता का उल्लंघन व कोविड गाइड लाइन की पूरी तरह धज्जियां उड़ती दिखायी दी। सभा को लेकर पूर्व से लगाये गये कयासांे के मुताबिक भीड़ अनुमान से ज्यादा उमड़ पड़ी। जैसे ही इमरान मसूद पार्टी समर्थकों के बीच पहुंचे, तो कार्यकर्ताआंे ने उन्हें कंधे पर उठा लिया और उनका जोरदार समर्थन किया। कार्यकर्ताओं के जोश खरोश को देख इमरान मसूद पूरी तरह गदगद हो गए। उन्होंने भी कार्यकर्ताआंे के मनोबल को बढ़ाने का प्रयास किया। जैसे ही इमरान मसूद मंच पर पहुंचे, तो चारो ओर इमरान मसूद के नारे गुंजायमान हो गए। समर्थकांे के बीच पहुंचे इमरान मसूद ने एक बार फिर उनसे कहा कि वह मौजूदा हालात को देखते हुए कांग्रेस छोड़ सपा में शामिल होना चाहते है, इस पर कार्यकर्ताओं की क्या राय है, सभी ने हाथ उठाकर उनकी हां में हां मिलायी और कहा कि उनका फैसला जो भी होगा, वह उन्हें स्वीकार्य होगा। जिस पर इमरान मसूद ने कहा कि प्रदेश की जनविरोधी भाजपा सरकार को सत्ता से अलग करने के लिए सपा ही सक्षम है और वह कार्यकर्ताओं व समर्थकों की राय के बाद ही फैसला लेंगे, जिस पर सभी ने उनके इस फैसले पर अपनी मुहर लगा दी। इमरान मसूद ने कार्यकर्ताओं के फैसले को सिरोधार्य करते हुए कहा कि वह शीघ्र ही लखनऊ मंें सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव से समय लेकर समाजवादी पार्टी में शामिल होंगे और जनपद की सातों सीटांे पर उम्मीदवारांे को विजयी बनाने का काम किया जायेगा। उनकी इस घोषणा पर कार्यकर्ता पूरी तरह उत्साहित नजर आये और सभी ने इस फैसले का स्वागत करते हुए एक स्वर में कहा कि इमरान मसूद की ताकत को मजबूत करने का काम किया जायेगा। इस दौरान कांग्रेस विधायक मसूद अख्तर ने इमरान मसूद को अपना नेता बताते हुए कहा कि जनता जर्नादन का जो फैसला आया है, हम उनके इस फैसले का स्वागत करते है और फैसला यह आया है कि समाजवादी पार्टी में शामिल हो जाये। कांग्रेस छोड़े जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के अलोकतांत्रिक व संविधान विरोधी सरकार को सत्ता से अलग करने के लिए यह फैसला लिया गया है और जनता के फैसले का सम्मान किया जा रहा है। देहात विधान सभा चुनाव सीट पर चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी का जो फैसला होगा, वह स्वीकार्य होगा। चुनाव से ठीक पहले पार्टी छोड़े जाने पर कहा कि सही समय पर सही फैसला लिया जाता है, इसी के चलते उन्होंने यह फैसला लिया है। इमरान मसूद उनके नेता है और उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ा जाएगा। अब जनपद में एक बार फिर राजनैतिक उलट फेर शुरू हो गयी है और अब समाजवादी पार्टी में क्या नया होगा, इस पर सभी की निगाहे लगी है। इस दोरान शाजान मसूद, काजी शायान मसूद, हाजी इदरीश, काजी फरहान सहित आदि समर्थक प्रमुख रूप से मौजूद रहे।