बीजेपी का लोकतंत्र में भरोसा नहीं : नरेश उत्तम

 | 
  बीजेपी का लोकतंत्र में भरोसा नहीं : नरेश उत्तम

अवधनामा संवाददाता

प्रयागराज :  समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व एमएलसी नरेश उत्तम सिंह पटेल ने कहा कि भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार को लोकतंत्र में भरोसा नहीं है। सरकार किसान और जनविरोधी है। शांतिपूर्ण लोकतांत्रिक तरीक़े के विरोध को भी अपनी तानाशाही के दम पर कुचलना चाहती है। उन्होंने कहा कि अब तो भाजपा गलत नीतियों का विरोध करने पर किसानों पर गाड़ी चढ़ा कर हत्या करने से भी नहीं चूक रही है।
प्रयागराज में करछना विधायक उज्जवल रमण सिंह व चाका ब्लाक प्रमुख अनिल सिंह पटेल के संयोजन में किसान नौजवान पटेल यात्रा में प्रदेश अध्‍यक्ष नरेश उत्‍तम मंगलवार को बोल रहे थे। यात्रा का बादलगंज में स्वागत किया गया। इस दौरान आयोजित सभा में उपस्थित किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश आज अराजकता के भंवर में फंस गया है। चारों तरफ लूट घसोट भ्रष्टाचार चरम पर है। इसलिए किसान नौजवान की जिम्मेदारी है कि इस जनविरोधी सरकार को उखाड़ कर फेंकने के लिए अभी से कमर कस लें, नहीं तो इस सरकार ने अभी तो किसानों के खाद की बोरी से पांच किलो खाद चोरी की है।
उन्‍होंने कहा कि निजीकरण के नाम पर दलितों पिछड़ों का आरक्षण चोरी कर रही है और आगे नई कृषि नीति के अंतर्गत आपके खेत खलिहान भी चोरी कर आपको खेतिहर मजदूर बना देगी। प्रदेश अध्यक्ष ने आह्वान किया कि किसान नौजवान होशियार हो जाओ और एकजुट होकर आगामी विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव की सरकार बनाओ। सपा सरकार में बिजली, दवा पढ़ाई, सिंचाई मुफ्त होने की उन्‍होंने बात कही। बारा में भी प्रदेश अध्यक्ष ने किसानों और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।
सभा का संचालन जिला उपाध्यक्ष विनय कुशवाहा व विधान सभा अध्यक्ष सनिल अहमद और अध्यक्षता विधायक उज्जवल रमण सिंह के प्रतिनिधि राजेश्वर पांडेय ने किया। सभा को संबोधित करने वालों में सपा जिलाध्यक्ष योगेश यादव, राष्ट्रीय सचिव अखिलेश कटियार, पूर्व सांसद धर्मराज पटेल, पूर्व सांसद नागेंद्र पटेल, नगर अध्यक्ष इफ्तेखार हुसैन,नंदलाल निषाद नंदा, संदीप पटेल, करछना प्रमुख कमलेश द्विवेदी, दिनेश पटेल, विजय बहादुर पटेल, पप्पू इसराइल, शिवयादव, शिलवंत यादव, दीपू दुबे, सुधीर भारतीय, अशोक भारतीय, राजेश यादव, महेंद्र निषाद, सैफ फरीदी, रामचंद्र निषाद, लत्ते प्रधान, लक्ष्मी शंकर तिवारी, कासिम भाई, राजेंद्र सिंह पटेल आदि शामिल रहे।