अदाणी ग्रीन ने ग्लोबल स्पॉन्सर ऑफ द ईयर अवार्ड हासिल किया

पीएफआई ने एजीईएल को एनर्जी ट्रांजिशन की प्रमुख कंपनी के रूप में मान्यता प्रदान की 
 
 | 
अदाणी ग्रीन ने ग्लोबल स्पॉन्सर ऑफ द ईयर अवार्ड हासिल किया 

यह अवार्ड जीतने वाली एजीईएल अब तक की एकमात्र भारतीय कंपनी है

अवधनामा संवाददाता 

सार-संक्षेप
•    एजीईएल ने 2030 तक 45गीगावाट अक्षय ऊर्जा (आरई) उत्पादन क्षमता के लिए प्लेटफॉर्म स्थापित किया
•    एजीईएल को विश्व में सबसे बड़ा अक्षय (रिन्यूएबल) ऊर्जा उत्पादक के रूप में अग्रसर कंपनी के रूप में जाना जाता है 
•    यह अवार्ड अक्षय ऊर्जा क्षेत्र में एजीईएल की प्रतिबद्धता और जलवायु संबंधी बड़े लक्ष्यों के लिए कंपनी को मिली वैश्विक मान्यता का प्रतीक है
•    समग्र ऊर्जा संक्रमण में एजीईएल के प्रयासों का विश्व स्तर पर महत्वपूर्ण असर है और इसने अपने जैसी कंपनियों के लिए एक उच्च मानक स्थापित किया है

अहमदाबाद : विविध किस्म के व्यवसाय का परिचालन करने वाले, अदाणी ग्रुप की अक्षय ऊर्जा शाखा, अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) ने प्रोजेक्ट फाइनेंस इंटरनेशनल (पीएफआई) से ग्लोबल स्पॉन्सर ऑफ द ईयर का पुरस्कार प्राप्त किया। यह वैश्विक पुरस्कार एजीईएल को ऊर्जा संक्रमण की एक प्रमुख कंपनी के रूप में मान्यता प्रदान करता है जिसने 2030 तक 45गीगावाट अक्षय ऊर्जा उत्पादन क्षमता को लागू करने के लिए प्लेटफॉर्म स्थापित किया है।

एजीईएल यह वैश्विक पुरस्कार जीतने वाली एकमात्र भारतीय कंपनी है। पिछले विजेताओं में टोटल एनर्जीज, अरामको, ओर्स्टेड और इनेल जैसी प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा कंपनियां शामिल हैं।परियोजना वित्त रिपोर्टिंग पर केंद्रित विश्व स्तर पर प्रसिद्ध प्रकाशन, पीएफआई ने वर्ष 2021 में एजीईएल द्वारा हासिल किए गए विभिन्न महत्वपूर्ण उपलब्धियों का खास उल्लेख किया है।

एजीईएल ने 2025 तक 25 गीगावाट आरई उत्पादन तक पहुंचने के साहसिक लक्ष्य के साथ 2021 की शुरुआत की थी। हालांकि, नवम्बर में सीओपी26 शिखर सम्मेलन में, एजीईएल ने 2030 तक 45गीगावाट का एक नया लक्ष्य निर्धारित करके ऊर्जा संक्रमण की गति को बढ़ा दिया, जो भारत सरकार के 450गीगावाट देशव्यापी अक्षय ऊर्जा लक्ष्यका 10% है।

एजीईएल ने इस साल सॉफ्टबैंक ग्रुप और भारती से एसबी एनर्जी इंडिया को खरीदते हुए, 3.5बिलियन डॉलर के अधिग्रहण के जरिए अपने पोर्टफोलियो में 5गीगावाट की परिचालन और विकास परियोजनाओं को शामिल कियाहै।

एजीईएल ने एसईसीआई के पहले मैन्युफैक्चरिंग-लिंक्ड सोलर टेंडर में रिकॉर्ड-ब्रेकिंग 8गीगावाट सोलर जेनरेशन के हिस्से के रूप में दिसम्बर में 4.67गीगावाट क्षमता के लिए दुनिया के सबसे बड़े अक्षय ऊर्जा (रिन्यूएबल) पीपीए पर हस्ताक्षर किए। एजीईएल ने वित्त वर्ष 2022-23 तक भारत में 1.5 गीगावाट नए सोलर सेल और मॉड्यूल निर्माण क्षमता के साथ 2गीगावाट प्रति वर्ष क्षमता की डिलीवरी के लिए भी प्रतिबद्ध है, जो अधिक घरेलू सौर उपकरणों के लिए किए जा रहे सरकार के प्रयास में योगदान देता है।

विकास की अपनी गति को बनाए रखने के लिए, एजीईएल ने अमेरिकी डॉलर बांड निर्गमों के साथ परियोजना वित्त ऋण और पुनर्वित्त संपत्ति की बड़ी रकम जुटाई है:

एजीईएल ने राजस्थान में अक्षय ऊर्जा में रुकावट के मुद्दे में सुधार के लिए, तीन पथप्रदर्शक हाइब्रिड (सौर और पवन) परियोजनाओं के 1.69गीगावाट पोर्टफोलियो के परियोजना-वित्त निर्माण के लिए एक नई और लचीली ऋण संरचना तैयार की। यह ऋण भारत में अक्षय ऊर्जा के लिए सबसे बड़ा सिंडिकेटेड बाहरी वाणिज्यिक उधार (ईसीबी) परियोजना वित्तपोषण है। ईएसजी बाजारों में, इसने सबसे बड़े हरित प्रमाणित हाइब्रिड परियोजना ऋण के रूप में एक नया रिकॉर्ड बनाया। यह भारत में परियोजना से सम्बंधित सभी समझौतों को पूरी तरह से लागू (फाइनेंशियल क्लोज) करने वालेविश्व स्तरीय सबसे बड़े हाइब्रिड पोर्टफोलियो में से एक है।
2025 तक 25गीगावाटके अपने लक्ष्य हेतु पूरी तरह से वित्तपोषण के लिए, एजीईएल ने सितम्बर में बांड निर्गमों से 750 मिलियन अमेरिकी डॉलर जुटाए।
एजीईएल के एमडी एवं सीईओ श्री विनीत एस. जैन ने कहाकि "यह एक उत्साहजनक मान्यता है जो हमें 2030 तक 45गीगावाट की अक्षय उत्पादन क्षमता के विकास और परिचालन के जरिये ऊर्जा संक्रमण करने के लिए हमारी प्रतिबद्धता और हमारे बहु-आयामी दृष्टिकोण को मिली है।पीएफआई की मान्यता हमारे पूंजी प्रबंधन कार्यक्रम सहित हमारी व्यापार योजना पर हमारे निरंतर ध्यान देने का साक्ष्य है।"

पीएफआई के बारे में: प्रोजेक्ट फाइनेंस इंटरनेशनल (पीएफआई) पिछले 25 वर्षों से प्रोजेक्ट फाइनेंस रिपोर्टिंग में सबसे आगे है। यह परिवहन, बिजली, तेल और गैस, बुनियादी ढांचे और खनन सहित सभी प्रमुख क्षेत्रों को समेटते हुए उद्योग की सेवा करने वाला सबसे व्यापक और आधिकारिक प्रकाशन है।

अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के बारे में
 

अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) भारत स्थित अदाणी ग्रुप का एक हिस्सा है, जिसके पास सबसे बड़े वैश्विक अक्षय ऊर्जा (रिन्यूएबल) पोर्टफोलियो में से एक पोर्टफोलियो है और निवेश-ग्रेड के समकक्षों की जरूरतों को पूरा करने वाले परिचालित, निर्माणाधीन, हासिल की गई परियोजनाओं और अधिग्रहित संपत्तियों में 20.3 गीगावाट की लॉक्डे-इन प्रगति कर रही हैं। कंपनी यूटिलिटी-पैमाने पर ग्रिड से जुड़े सौर और पवन फार्म परियोजनाओं का विकास, निर्माण, स्वामित्व, परिचालन और रखरखाव करती है। एजीईएल के प्रमुख ग्राहकों में सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एसईसीआई), नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) और विभिन्न राज्यों के डिस्कॉम शामिल हैं। 2018 में सूचीबद्ध, एजीईएल आज 28 बिलियन अमेरिकी डॉलर की मार्केट-कैप कंपनी है, जो भारत को उसके सस्टेनेबिलिटी लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करती है। अमेरिका स्थित थिंक टैंक, मेरकॉम कैपिटल, ने हाल ही में अदाणी ग्रुप को #1वैश्विक सोलर पावर जेनेरेशन एसेट ओनर का दर्जा दिया है।

अधिक जानकारी के लिए देखें: www.adanigreenenergy.com
मीडिया के सवालों के लिए, कृपया संपर्क करें: रॉय पॉल | roy.paul@adani.com