भाभी जी घर पर है फेम ईश्वर ठाकुर के लिए मसीहा बने सोनू सूद

 | 
भाभी जी घर पर है फेम ईश्वर ठाकुर के लिए मसीहा बने सोनू सूद

नई दिल्ली  छोटे पर्दे के पॉपुलर शो भाभी जी घर पर है में अनुराग का किरदार निभाने वाले ऐक्टर ईश्वर ठाकुर करीब 2 साल से घर में बैठे हैं। बीमारी की वजह से वह काम पर जाने में असमर्थ हैं। वह कई सालों से मानसिक रूप से बीमार अपने भाई की देखरेख कर रहे हैं जिन्हें थाने मेंटल हॉस्पिटल में रखा गया है। ईश्वर ठाकुर ने बताया कि उनके भाई करीब 20 साल से Schizophrenia नाम की मानसिक बीमारी से जूझ रहे हैं। उन्होंने बताया कि पहले अस्पताल 6 महीने में उनके भाई को रिहा कर देता था मगर अब यह समय अवधि 6 से 3 महीने की हो गई है। एक्टर ने बताया कि वह इस समय काफी मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। तकरीबन 2 साल से घर में बैठे रहने की वजह से उनके पास पैसे की कमी है। इस मुश्किल हालात में सोनू सूद के फाउंडेशन और भाभी जी घर पर है के कास्ट ने उनकी मदद की।

20 साल से बीमार हैं ईश्वर ठाकुर के भाई

एक्टर ने बताया कि उनके भाई का इलाज तकरीबन 20 साल से चल रहा है। उनके भाई कभी-कभी हिंसक हो जाते हैं और परिवार वालों को मारने लगते हैं। ईश्वर ठाकुर खुद 2 साल से बीमार हैं और उनकी मां भी दिल की मरीज हैं। ऐसे हालात में वह अपने भाई को घर में नहीं रख सकते इसीलिए उन्होंने अपने भाई को आश्रम में रखा है जिसके लिए उन्हें किराया देना पड़ता है। हॉस्पिटल वाले अब ईश्वर ठाकुर के भाई को वापस भर्ती नहीं कर रहे हैं जिसकी वजह से उन्हें वापस आश्रम का सहारा लेना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि वह 2 साल से जॉब नहीं कर रहे हैं जिसकी वजह से वह आश्रम का किराया देने में असमर्थ हैं। इस मुश्किल हालात से बाहर निकलने के लिए उन्होंने सोनू फाउंडेशन की मदद ली। यह फाउंडेशन करीब 3 महीनों तक उनके भाई का खर्च संभालेगा।‌ 

मुश्किल वक्त में शो के कास्ट ने भी बढ़ाया हाथ

ईश्वर ठाकुर ने बताया कि सिर्फ सोनू सूद फाउंडेशन ही नहीं बल्कि उनके शो के कास्ट, प्रड्यूसर और बाकी टीम मेंबर्स ने भी उनकी मदद की है। कैमरामैन राजा दादा से लेकर डायरेक्टर शशांक बाली और मेकअप मैन समीप जुकार से लेकर डायरेक्टर रंजन वाघधरे तक कई लोग उनकी मदद के लिए सामने आए। यहां तक कि भाभी जी घर पर है के मुख्य कलाकार शुभांगी अत्रे, सौम्या टंडन, आसिफ शेख और अन्य स्टार कास्ट ने भी आर्थिक रूप से उनकी मदद की। प्रड्यूसर बिनेफर कोहली और राइटर सनद वर्मा समेत अन्य कलाकार जैसे कविता कौशिक, कीकू शारदा और राइटर मनोज संतोष ने भी उनकी मदद की। CINTAA की नूपुर अलंकार ने सीनियर एक्ट्रेस आशा पारेख से बात की जिसके बाद उनका एनजीओ पिछले 1 साल से हर महीने 5 हजार रुपए भेजकर उनकी मदद कर रहा है। 
भाभी जी घर पर है एक्टर ईश्वर ठाकुर फिलहाल किडनी की प्रॉब्लम से परेशान हैं, इसके साथ उन्हें अपने पैर की सर्जरी भी करवानी है। वह वापस अपने पैरों पर खड़ा होकर काम पर जाना चाहते हैं। ईश्वर ठाकुर ने कहा कि उनका स्वास्थ्य फिलहाल ठीक नहीं है और वह किडनी के लिए आयुर्वेदिक इलाज करवा रहे हैं। पैर की सर्जरी करवाने के बाद वह वापस भाभी जी घर पर हैं टीवी शो की शूटिंग जाॅइन करेंगे।