सजगता से खरीदें असली चांदी के सिक्के

 | 
बाजार में 25 प्रतिशत तक बिक रहे नकली चांदी के सिक्के, इस तरह करें पहचान

नई दिल्ली  गोविन्द नाथ शर्मा, झरिया। दीपावली पर्व का धनतेरस आज है। धनतेरस के दिन सोना और चांदी से बने सामानों को खरीदने की परंपरा सदियों पुरानी है। लगभग 75 प्रतिशत मध्यम परिवार के लोग इस दिन शगुन के रूप में चांदी का सिक्का ही खरीदते हैं। झरिया और धनबाद में धनतेरस का बाजार सज चुका है। आभूषण की दुकानों से अधिकांश लोग चांदी के सिक्के की खरीदारी कर रहे हैं। मंगलवार की रात तक आभूषण दुकानों में धनतेरस की खरीदारी को लेकर भीड़ रहेगी। ऐसे में अगर आप चांदी के सिक्के खरीदने जा रहे हैं तो कुछ कम कीमत पर नकली चांदी के सिक्के खरीदने से बचें। कई दुकानदार धनतेरस के बाजार में असली चांदी के सिक्के की तरह दिखने वाले नकली सिक्के को बेचने में लगे हैं। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि झरिया व धनबाद के आभूषण बाजार में 25 प्रतिशत नकली चांदी के सिक्के आ चुके हैं। धनतेरस के अवसर पर नकली चांदी के सिक्के खरीदने में सतर्कता बरतें।

सजगता से खरीदें असली चांदी के सिक्के

झरिया में लगभग डेढ़ सौ वर्ष पुरानी सोना मंडी है। यहां 50 से अधिक आभूषण की छोटी व बड़ी दुकानें हैं। वहीं बैंक मोड़, हीरापुर, सरायढेला आदि क्षेत्रों में भी 50 से अधिक भूषण की दुकानें हैं। झरिया सोना मंडी की प्रसिद्ध दुकान रानी सती ज्वेलर्स के संचालक अमित झुनझुनवाला ने कहा कि धनतेरस के बाजार में कई दुकानदार नकली चांदी के सिक्के भी बेच रहे हैं। लोगों को इसकी पहचान कर ही खरीदारी करनी चाहिए। श्री श्याम सुंदर ज्वेलर्स के विक्की अग्रवाल और आभूषण के विक्रेता सत्यनारायण भोजगढ़िया ने कहा कि लोगों को काफी सजगता से ही असली चांदी के सिक्के खरीदने चाहिए।

धनतेरस के बाजार में चांदी के सिक्के के यह हैं रेट

झरिया सोना-चांदी मंडी के व्यवसायियों ने कहा कि धनतेरस के अवसर पर विक्टोरिया और गणेश-लक्ष्मी मार्का के असली चांदी के सिक्के की मांग ज्यादा है। 11 ग्राम से अधिक विक्टोरिया चांदी के सिक्के की कीमत 1000 से 1050 है। 11 ग्राम असली चांदी का सिक्का 800 से 850, 10 ग्राम गणेश-लक्ष्मी चांदी सिक्का का रेट 600 से 700 रुपये हैं। वहीं नकली चांदी के सिक्के 400 रुपये तक मिल जाते हैं। इनमें 50 से 60 प्रतिशत ही चांदी रहता है।इसमें जर्मन सिल्वर नामक धातु मिलाए जाने से इसकी पहचान जल्दी लोग नहीं कर पाते हैं। यह दिल्ली और कोलकाता से आता है।

ऐसे पहचान करें नकली चांदी के सिक्कों की

धनतेरस के बाजार में अगर आप चांदी के सिक्के की खरीदारी करने जा रहे हैं तो उसकी ऐसे पहचान करें। असली सिक्के को जमीन पर गिराए छन की आवाज होने से समझे कि वह नकली है। चांदी के ठोस धातु होने के कारण जमीन पर से गिराने से यह ढक की आवाज करती है। यही असली सिक्का होता है। असली चांदी के सिक्के पर बर्फ का टुकड़ा रखें। अगर बर्फ तेजी से पिघलने लगे तो समझे कि सिक्का असली है। देर से पिघलने पर वह नकली व मिलावटी होता है। चुंबक से भी असली नकली चांदी के सिक्के की पहचान होती है। असली चांदी के सिक्के चुंबक की ओर आकर्षित नहीं सकते हैं। वहीं नकली मिलावटी सिक्के चुंबक की ओर आकर्षित हो जाते हैं।